Gas-tips

जब गैस व्यक्ति की आंतों में बढ़ना शुरू हो जाती है तो उसके कारण व्यक्ति को पेट में दर्द और असुविधा महसूस होती है। ऐसे में कब्ज और दस्त होने पर गैस की समस्या गंभीर रूप ले सकती है। इसीलिए गैस की समस्या को समय रहते ठीक करना जरूरी है। इस समस्या को बढ़ाने या घटाने में खाना अहम भूमिका निभाता है। अगर व्यक्ति को गैस हो जाए और ऐसे में वह गलत आहार का सेवन करे तो यह समस्या बढ़ सकती है। वहीं अगर लोग सही आहार को अपनी डाइट में जोड़ें तो गैस की समस्या से छुटकारा भी पाया जा सकता है। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि पेट में गैस होने पर किन चीजों से परहेज करना चाहिए। आज का हमारा लेख उन्हीं चीजों पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि गैस होने पर व्यक्ति को किन चीजों को अपनी डाइट से निकालना चाहिए।

1- फास्ट फूड का ना करें सेवन

गैस होने पर फास्ट फूड को अपनी डाइट से निकाल देना चाहिए। क्योंकि इसके कारण पाचन क्रिया को अधिक कार्य करना पड़ता है और इनमें फाइबर की मात्रा भी कम होती है, जिसके कारण पाचन क्रिया अपना काम भली-भांति नहीं कर पाती और हम कब्ज के शिकार हो जाते हैं।

2 – केले को निकालें अपनी डाइट से

केले से भी गैस की समस्या बढ़ सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि कच्चे केले का सेवन करने से व्यक्ति के शरीर में कब्ज की समस्या हो सकती है। कच्चे केले के अंदर फाइबर कम मात्रा में मौजूद होते हैं वहीं पके हुए केले को अपनी डाइट में शामिल करके हम कब्ज की समस्या और गैस की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। पके हुए केले के अंदर घुलनशील फाइबर मौजूद होते हैं।

3 – बींस को कहें ना

गैस की समस्या होने पर भी उसको अपनी डाइट में शामिल ना करें। खासकर रात में बींस का सेवन करने से बचें। बींस के अंदर रेफिनोज (raffinose) मौजूद होते हैं, जिसके कारण खाना पचाने में दिक्कत महसूस हो सकती हैं। बता दें कि छोटी आंत और बड़ी आंत से होता हुआ रेफिनोज जब बैक्टीरिया द्वारा टूटता है तो कार्बन डाइऑक्साइड, मिथेन गैस आदि उत्पादित होते हैं। ऐसे में इसका सेवन रात में ना करें। खास तौर पर गैस होने पर भी उसको अपनी डाइट से निकालें।

4 – डेरी प्रोडक्ट से बनाएं दूरी

डेरी प्रोडक्ट को भी गैस की समस्या के दौरान नहीं का खाना चाहिए। अब सवाल यह है कि किन डेरी प्रोडक्ट का सेवन नहीं कर सकते। तो आप गैस या कब्ज के दौरान दूध को अपनी डाइट से निकालें वहीं आप दही को अपनी डाइट में जोड़ सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इसके अंदर प्रोबायोटिक्स भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो गट की सेहत के लिए अच्छा होता है।

5 – प्याज से बनाएं दूरी

प्याज के अंदर में फ्रुक्टोज मौजूद होता है जो एक प्राकृतिक शर्करा के रूप में जाना जाता है। यह भी सॉर्बिटोल और रेफिनोज की तरह कार्य करता है और इसे भी आंतों में बैक्टीरिया द्वारा तोड़ा जाता है जिसके कारण शरीर में गैस की समस्या बढ़ने लगती है या गैस की समस्या उत्पन्न भी हो सकती है।

6 – इन फलों का ना करें सेवन

गैस होने पर नाशपाती, सेब, आडू आदि फलों को अपने डाइट से निकालें। क्योंकि यह फल आसानी से नहीं पचते हैं। इन फलों के अंदर भी प्राकृतिक शर्करा मौजूद होती है और इनके द्वारा भी गैस की समस्या बढ़ने लगती है ऐसे में इन फलों का अपनी डाइट से गैस के दौरान निकालें।

7 – इन सब्जियों का सेवन ना करें

गैस होने पर या कब्ज होने पर कुछ सब्जियां जैसे गोभी, पत्तागोभी, शतावरी आदि को अपनी डाइट में नहीं जोड़ना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि इनके सेवन से पाचन क्रिया को अधिक कार्य करना पड़ सकता है। वही ये सब सब्जियां शरीर में बादी के स्तर को बढ़ा सकती हैं।

8 – शराब का सेवन

शराब के सेवन से भी गैस की समस्या बढ़ सकती है। शराब हमारी पाचन क्रिया को नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है। ऐसे में हमारे शरीर में डिहाइड्रेशन की समस्या भी हो सकती है। डिहाइड्रेशन का सीधा असर हमारे पाचन क्रिया पर पड़ता है और कब्ज की समस्या पैदा हो जाती है। ऐसे में गैस होने पर शराब से दूरी बनाएं।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleइन परेशानियों में न करें लहसुन का सेवन
Next articleलोहे की कड़ाही में खाना बनाने वाले इन 7 बातों का रखें विशेष ध्यान

Leave a Reply