fever

मौसम में बदलाव और कुछ अन्य कारणों से सर्दी, बुखार और खांसी की समस्या सामान्य होती है। बुखार की समस्या में व्यक्ति के शरीर का तापमान बढ़ जाता है और इसकी वजह से कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। जब आप स्वस्थ होते हैं तो भोजन की इच्छा हर समय हो सकती है लेकिन बुखार की समस्या से ग्रसित होने के बाद इंसान का मन कुछ भी खाने और पीने को नहीं करता है। बुखार की समस्या से ग्रसित होने के बाद खानपान का विशेष ध्यान रखना चाहिए। बुखार से पीड़ित व्यक्ति को ससही और संतुलित भोजन करना बहुत जरूरी होता है। इस दौरान कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन आपकी परेशानी को और भी बढ़ा सकता है। ऐसे में शरीर की इम्यूनिटी कमजोर होने से बचाने के लिए कुछ खाद्य पदार्थों के सेवन से परहेज रखना चाहिए। शरीर को सही मात्रा में न्यूट्रीएंट्स मिलें और बुखार की वजह से होने वाली परेशानियों से बचने के लिए आपको यह जानना बहुत जरूरी है कि बुखार से पीड़ित होने के बाद किन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। बुखार होने पर अगर आप कई समस्याओं से निजात पाना चाहते हैं और इम्यूनिटी को कमजोर होने से बचाना चाहते हैं तो इन चीजों का सेवन भूलकर भी न करें। आइये जानते हैं बुखार की समस्या में मरीज का खानपान (Diet Tips For Fever Patient) कैसा रहना चाहिए?

बुखार होने पर न खाएं ये फूड्स

Foods To Avoid in Fever

किसी भी तरह की बीमारी में आपको पौष्टिक और सेहत के लिए फायदेमंद चीजों का ही सेवन करना चाहिए। विशेष रूप से बुखार की समस्या में अगर आपका खानपान संतुलित और पौष्टिक नहीं होगा तो यह समस्या काफी दिनों तक आपके शरीर में रह सकती है। इसके अलावा अगर आपने बुखार से ग्रसित होने के दौरान इन चीजों का सेवन किया तो इसकी वजह से आपकी परेशानी और बढ़ सकती है। यहां तक कि आपके शरीर की इम्यूनिटी (रोग प्रतिरोधक क्षमता) भी कम हो सकती है। इसलिए अगर आप भी बुखार से पीड़ित हैं तो इन चीजों के सेवन से परहेज जरूर करें।

1. बुखार में डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन (Dairy Products)

बुखार की समस्या कई तरह की होती है। मौसम में परिवर्तन और सर्दी की वजह से सामान्य बुखा हो सकता है। लेकिन कई बार लोगों में फ्लू और वायरल संक्रमण की वजह से भी बुखार की समस्या होती है। फ्लू और वायरल संक्रमण की वजह से होने वाले बुखार की स्थिति में मरीज को खानपान को लेकर विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। इस समस्या से ग्रसित होने के दौरान अगर आप डेयरी उत्पादों का सेवन करते हैं तो यह सेहत के लिए फायदेमंद नहीं माना जाता है। कई अध्ययन और शोध इस बात की जानकारी देते हैं कि बुखार से ग्रसित होने पर अगर आप डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन करते हैं तो इसकी वजह से आपकी परेशानियां और बढ़ सकती हैं। इसलिए बुखार से पीड़ित होने के दौरान आपको इन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।

2. अल्कोहल और कैफीनयुक्त पदार्थों का सेवन (Alcohol and Caffeinated Drinks)

बुखार की समस्या में कैफीनयुक्त पेय और शराब आदि का सेवन सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक माना जाता है। इस दौरान अगर आप शराब का सेवन करते हैं तो इसकी वजह से आपकी समस्याएं और बढ़ सकती हैं। बुखार होने पर शराब का सेवन शरीर को डिहाइड्रेट कर सकता है जिसकी वजह से यह समस्या और बढ़ सकती है। इसके अलावा कैफीनयुक्त पदार्थों का सेवन आपको पेट से जुड़ी कई समस्याओं से ग्रसित कर सकते हैं क्योंकि बुखार होने पर शरीर की इम्यूनिटी और पाचन दोनों ही खराब हो जाते हैं। इसलिए बुखार में शराब, स्मोकिंग और कैफीनयुक्त पेय का सेवन न करने की सलाह दी जाती है।

3. शुगर की अधिक मात्रा वाले खाद्य पदार्थों का सेवन (High Sugar Drinks or Foods)

बीमार पड़ने पर कुछ लोगों में मीठा खाने की क्रेविंग होती है लेकिन क्या आपको पता है कि इस दौरान अधिक मीठा खाने से समस्याएं और बढ़ जाती हैं? बुखार होने पर आपको मीठे खाद्य पदार्थ और अतिरिक्त शुगर की मात्रा वाले पेय का सेवन करने से बचना चाहिए। इस दौरान अप विटामिन सी से युक्त ड्रिंक्स का संतुलित मात्रा में सेवन कर सकते हैं। लेकिन जिन चीजों में शुगर की मात्रा बाहर से मिलाई जाती है ऐसे खाद्य और पेय पदार्थों के सेवन से परहेज बुखार में फायदेमंद माना जाता है। अधिक मीठा खाने से बुखार की समस्या में आपके शरीर की इम्यूनिटी और कमजोर हो सकती है। इस दौरान शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में थोड़ी-थोड़ी देर में पानी जरूर पीना चाहिए।

4. जंक फूड्स का सेवन (Junk Foods)

बुखार होने पर जंक फूड्स का सेवन करने से बचने चाहिए। जंक फूड्स वैसे भी सेहत के लिए फायदेमंद नहीं माने जाते हैं लेकिन जब आप बुखार की समस्या से ग्रसित हों तो विशेष रूप से ऐसी चीजों के सेवन से बचना चाहिए। बुखार होने पर जंक फूड्स का सेवन आपके शरीर में असंतुलन पैदा कर सकते हैं और इनके पचने में भी दिक्कत हो सकती है। बुखार के समय अगर आप ऐसी चीजों का सेवन करते हैं तो हो सकता है कि इसकी वजह से आपको उल्टी और दस्त की समस्या भी झेलनी पड़े।

5. ऑयली और मसालेदार भोजन (Oily and Spicy Foods)

फीवर या बुखार की समस्या में ऑयली और मसालेदार भोजन का सेवन करने से बचना चाहिए। कुछ लोगों को बुखार के दौरान अधिक तीखा या मसालेदार भोजन करने की इच्छा हो सकती है। लेकिन इसका सेवन करने से बुखार की समस्या में आपकी परेशानी और बढ़ सकती है। बुखार में ऑयली, मसालेदार और हाई कोलेस्ट्रॉल वाली डाइट से परहेज रखना चाहिए। फास्ट फूड और अधिक तले भुने खाद्य पदार्थों का सेवन करने से आपको जी मिचलाने और पाचन तंत्र से जुड़ी कई समस्याएं हो सकती हैं। इस दौरान अधिक मसालेदार भोजन करने से आपको डिहाइड्रेशन की समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है।

6. फाइबर की अधिक मात्रा वाले खाद्य पदार्थों का सेवन (High Fiber Foods)

बुखार की समस्या में उचित और संतुलित खानपान बहुत फायदेमंद माना जाता है। इस दौरान अगर आपकी डाइट ठीक है तो बुखार की वजह से होने वाली अन्य समस्याएं शरीर में नहीं पनपती हैं। संतुलित और पौष्टिक भोजन का सेवन कर आप बुखार की समस्या के कारण शरीर की इम्यूनिटी को कमजोर होने से बचा सकते हैं। कई शोध और अध्ययन इस बात की पुष्टि करते हैं कि बुखार होने पर फाइबर की अधिक मात्रा वाले खाद्य पदार्थों के सेवन से दूरी बना लेनी चाहिए। बुखार की समस्या में शरीर का पाचन तंत्र वैसे ही कमजोर हो जाता है और इस दौरान फाइबर का अधिक सेवन करने से पाचन तंत्र से जुड़ी कई अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं। इसलिए जब आप बुखार की समस्या से ग्रसित हों तो फाइबर की उच्च मात्रा वाले खाद्य पदार्थ जैसे साबुत अनाज, साबुत गेहूं की रोटी और अन्य हाई फाइबर वाले फूड्स का सेवन नहीं करना चाहिए।

बुखार की समस्या में कैसी होनी चाहिए डाइट?

Diet Tips For Fever Patient

बुखार की समस्या में इंसान का खानपान पर विशेष ध्यान होना चाहिए। इस दौरान असंतिलित भोजन करने से आपके शरीर की इम्यूनिटी कमजोर हो सकती है और शरीर में कई अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं। बुखार होने पर इन खाद्य पदार्थों का सेवन फायदेमंद माना जाता है।

हरी सब्जियां और फल का सेवन करें।
सब्जियों को उबाल कर खाएं।
सूप और दलिया को डाइट में शामिल करें।
बुखार के दौरान प्रोटीन का सेवन जरूर करें।
मूंग दाल की खिचड़ी का सेवन करें।
पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन करें।

Leave a Reply