एड़ी, टखने और घुटनों का दर्द का इलाज इन हिंदी

अरंडी के तेल (Castor Oil) को सदियों से भारतीय स्वास्थय दर्शन में विशिष्ट स्थान दिया गया है, ये अनेकों बिमारियों को सही कर सकता है, इसका पेड़ गाँवों में खेतों में बड़ी आसानी से मिल जाता है, और भारत इसको बहुत बड़ी मात्रा में एक्सपोर्ट करता है. इसका तेल इसके बीजों की मींगी (गिरी) से प्राप्त किया जाता है. पेट साफ़ करने के लिए ये बहुत उत्तम औषिधि है. अरंड के तेल को egypt वासी भी बहुत इस्तेमाल करते थे.घुटनों के दर्द का देसी अचूक इलाज इन हिंदी

इसके साथ में बेकिंग सोडा अपने गुणों के कारण अति विशेष है. इसके अल्काइन सब्सटेंस में एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल, एंटीसेप्ट‍िक और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण मौजूद होते हैं. एड़ी दर्द का देसी इलाज इन हिंदी, टखने का दर्द का देसी इलाज इन हिंदी .

आइये जानें aedi ke dard ka ilaj, aedi ka dard se chutkara, adi ke dard ka ilaj, aedi ka dard in english,aedi ka dard ka upay, टखने में दर्द और सूजन के लिए घर उपचारटखने के दर्द का उपाय, टखने में दर्द चलते समय, टखने का दर्द, घुटने का दर्द, घुटने की सूजन का इलाज, घुटने की ग्रीस.
  चेचक के दाग हटाने के 10 आसान उपाय और घरेलू नुस्खे

आज हम चर्चा करेंगे इन दोनों को आपस में मिलाकर लगाने से कैसे एड़ी या घुटनों का दर्द सही करें. आइये जाने.

एड़ी या घुटनों का दर्द का इलाज इन हिंदी 

Aedi Ya Ghutnon Ka Dard Ka Ilaj In Hindi

इसके लिए ज़रूरी सामान

अरंड का तेल
बेकिंग सोडा
गर्म पानी की बोतल मसाज के लिए.
Aluminium foil

इस्तेमाल की विधि : 

घुटनों के दर्द दूर करने और यहाँ पर रक्त का अच्छे से परिसंचरण करने के लिए बहुत मददगार है. पहले आप दर्द वाले स्थान को बेकिंग सोडा को पानी में मिलाकर अच्छे से धुलाई कर लीजिये, अभी इस पर अरंड का तेल लगा लीजिये, और इस के ऊपर रसोई में रखा हुआ Aluminium foil लपेट लीजिये, अभी इसके ऊपर गर्म पानी की बोतल से सेक कीजिये, और 60 मिनट तक इसको बांधे रखिये, ऐसा 40 दिन तक करें. और फिर देखें नतीजे.घुटनों के दर्द का देसी अचूक इलाज इन हिंदी

एड़ी का दर्द – बेकिंग सोडा और कैस्टर तेल को मिलाकर एड़ी दर्द के स्थान पर भी उपरोक्त बताई गयी घुटनों के दर्द वाली विधि से लगाएं. ये प्रयोग आप 30 से 50 दिन तक करें. एड़ी दर्द का देसी इलाज इन हिंदी

टखने का दर्द – उपरोक्त यही विधि आप टखने के दर्द में भी अपनाएं. टखने का दर्द का देसी इलाज इन हिंदी

इस प्रयोग का असर तो पहले ही दिन में दिखने लगेगा. फिर भी आप इसको 1 से 2 महीने तक करें. और जो भी भाई बहने ये प्रयोग करें वो अपना अनुभव ज़रूर बताये.

वैसे तो ये चीजें बहुत आसानी से हर जगह उपलब्ध हो जाती है, मगर फिर भी अगर आपको ये ना मिले तो आप इसको जितेंदर जी से 7073796173 पर फ़ोन पर मंगवा सकते हैं. ध्यान रहे के जितेंदर जी ये पंसारी की कच्ची औषधियां बेचते हैं वो कोई वैद नहीं हैं. और उनका Ayurvedforlife से कोई सम्बन्ध नहीं है. उनका नंबर यहाँ सिर्फ आपको ये कच्ची औषिधि उपलब्धता के लिए बताया है.

■  जानिए एसिडिटी के उपचार के बारे में

दोस्तों घुटने का घिसना, घुटनों में सूजन का इलाज, अंगुली में दर्द, टखने में दर्द के चलते समय का ये लेख कैसा लगा हमें जरूर बताएं और अगर आपके पास जोड़ो के दर्द का घरेलू उपाय, जोड़ों के दर्द की दवा, पैर के अंगूठे में दर्द, adi dard in hindi, adi ke dard ke gharelu upchar, edi ke dard ke gharelu upay के सुझाव है तो हमारे साथ शेयर करें।

5 COMMENTS

  1. […] एडी का दर्द पैरों की बहुत आम समस्या है और हमारी रोजमर्रा की जिंदगी को बहुत प्रभावित कर जाता है । एडी का दर्द अक्सर एडी और एडी के पीछे ही महसूस होता है किंतु कई बार यह पिण्ड़लियों और पूरे तलवों में भी परेशानी पैदा कर देता है । […]

  2. […] अरेडी के तेल में हल्का सा बैंकिंग सोडा मिला कर पेस्ट बनाकर मस्से पर लगाएं। 2-3 हफ्तों तक इसका नियमित इस्तेमाल करने से आपके मस्से दूर हो जाएंगे। […]

Leave a Reply