health

दोस्तों आयुर्वेद में भोजन और दैनिक जीवन में खानपान को लेकर बहुत से ऐसे नियम है अगर हम उनको अपने जीवन में उपयोग करें तो कभी भी बुढ़ापा ही जीवन में नहीं आएगा और शरीर भी स्वस्थ रहेगा आज के इस भाग दौड़ भरी जीवन में इंसान स्वास्थ्य और भोजन के प्रति ज्यादा जागरूक नहीं है

अगर हम आयुर्वेद द्वारा बताए गए कुछ नियमों का पालन करें तो जीवन में कभी भी बुढ़ापे का सामना नहीं करना पड़ेगा अक्सर यह देखा गया है कि आजकल खाने के तुरंत बाद फ्रिज का ठंडा पानी या शीतल पानी पीने का प्रचलन है भोजन के तुरंत बाद पानी पीना पेट की कई बीमारियों को जन्म देता है।

इससे जठराग्नि शांत हो जाते हैं और आहार का पाचन ठीक से नहीं होता है ठंडा पानी पीने की जगह आप खाना खाते समय थोड़ा-थोड़ा साधारण तापमान का पानी ले सकते हैं खाना खाते समय हल्का गुनगुना पानी पीना सेहत के लिहाज से सबसे बेहतर है।

किसी पर कुछ लोगों को खाना खाने के तुरंत बाद चाय अथवा कॉफी पीने की आदत होती है भोजन के बाद चाय या कॉफी पीने से पेट में एसिडिटी बढ़ती है और खाना हजम होने में दिक्कत आती है साथ ही यह भी याद रखें कि भोजन करने के तुरंत बाद कोई भी फल नहीं खाना चाहिए ऐसा करने से एसिडिटी बढ़ जाती है और गैस की शिकायत हो सकती हैं।

सबसे मुख्य बात सबसे अधिक खतरनाक यह आदत है कि भोजन करने के बाद धूम्रपान करना अगर आप खाना खाने के बाद धूम्रपान करते हैं तो एक सिगरेट का असर 10 गुना बढ़ जाता साथ ही कैंसर होने का खतरा 50 फ़ीसदी से अधिक हो जाता है।

कुछ लोगों को खाना खाने के बाद नहाने की आदत होती है खाने के तुरंत बाद नहाने के कारण रक्त का प्रवाह पेट की जगह हाथ और पैर की तरफ अधिक बढ़ जाता है इस कारण पाचन शक्ति कमजोर हो जाते हैं चिकनाई वाले खाद्य पदार्थ तले खाद्य पदार्थ मक्खन मेवाती मिठाई खाने के तुरंत बाद पानी पीने से खांसी हो जाने की संभावना होती है जबकि गर्म खाना खीरा ककड़ी तरबूज खरबूजा मुलीवर मकई खान के बाद पानी पीने से जुकाम हो जाने की संभावना होती है।

भोजन करने के तुरंत बाद सोना नहीं चाहिए खाने के बाद तुरंत सोने से खाना ऊपर की ओर आने से एसिडिटी बढ़ती है जिससे आपको दिक्कत हो सकती है रात को खाना खाने के बाद बाहर सैर करने जायें कम से कम 500 कदम और रात को खाना खाने से कम से कम 2 घंटे के बाद ही सोए।ऐसा करने से आपका शरीर स्वथ्य और जवान रहेगा।

आपको हमारी जानकारी कैसी लगी हमे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं साथ ही पोस्ट को लाइक और शेयर जरूर कर दें ताकि दूसरों का भला भी हो सके।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleजीरे के पानी से दो हफ़्तों में चर्बी खत्म करने का आसान घरेलु उपाय | How To Lose Weight Fast in hindi
Loading...

Leave a Reply