ये बात एकदम सच है की रोटी खाने से ही पेट भरता है। परन्तु इसके अलावा रोटी में कई सारे पोषण तत्व होते है जो हमारे शरीर की उर्जा को बनाएं रखते है व हमे स्वस्थ रखते है।

रोटी में B1, B2, B3, B6, B9, आदि खनीज होते है यही कारण है की रोटी खाने से व्यक्ति स्वस्थ रहते है।

सिंगापुर, मलेशिया और थाईलैंड में रोटी को ब्रेड कहा जाता है हम पूरे दिन में चाहे कितने भी ब्रेड कितने भी पिज़्ज़ा चाउमिन या फिर बर्गर ही क्यों ना खा लें लेकिन हमारा पेट तो रोटी से ही भर्ता है।

रोटी बनाना बहुत ही आसान काम होता है सच मानिये अगर आप गरमागर्म रोटी खाते है तो इससे आपका पेट तो बरेगा ही साथ ही साथ आपका मन और आपकी ज़बान भी बहुत खुश हो जाती है।

आज हम आपको बतायेंगे गर्म रोटी खाने से हमारे शरीर को किया-किया फायदे मिलते है।

गर्म रोटी खाने के फायदे

खून की कमी को दूर करता है

गेहूं, जो और चने के आटे की रोटी भारत में बनाई जाती है। अगर हम गेहूं के आटे की रोटी खाते है तो इससे हमारे शरीर में खून की कमी पूरी हो जाती है। क्योकि गेहूं के आयरन होता है जो खून की कमी को पूरा कर देता है।

जोड़ो के दर्द का निदान करें

अगर आपके जोड़ो में दर्द होता है तो आपको अवश्य रोटी खानी चाहिए। रोटी खाने से हमे प्रोटीन और केल्शियम मिलता है जिससे हमारे मसल्स मजबूत होते है इससे जोड़ो के दर्द का निदान हो जाता है।

डायबिटीज का संतुलन

रोटी खाने का सबसे बड़ा फायदा है की इससे हमारी डायबिटीज कन्ट्रोल रहती है। रोटी खाने से शारीर में इंसुलिन और ग्लूकोज का लेवल संतुलित रहता है। जिससे डायबिटीज नियंतर में रहती है।

हेल्थ से जुड़ी सारी जानकारियां जानने के लिए तुरंत हमारी एप्प इंस्टॉल करें। हमारी एप को इंस्टॉल करने के लिए नीले रंग के लिंक पर क्लिक करें –

http://bit.ly/ayurvedamapp

ब्लडप्रेश कन्ट्रोल

रोटी में पोटेशियम होता है ये पोटेशियम ब्लडप्रेश को नियंतर में रखता है। इसीलिए सभी को रोज़ाना एक रोटी तो अवश्य खानी चाहिए।

पोष्टिक तत्वों से भरपूर

रोटी में वह सभी पोषक तत्व मिल जाते है जिससे हमारी बॉडी को फायदा होता है। पोष्टिक तत्वों से भरपूर रोटी साबित अनाज का बहतर विकल्प है इसका इस्तेमाल भारतीय व्यंजनों में रोज़ाना किया जाता है।

कब्ज़ को दूर भगाए

साबित अनाज में काफी मात्रा में फायबर होता है जिसे खाने से पेट की सभी बीमारियां दूर हो जाती है। बाजरे के आटे की रोटी रोज़ाना खाने से डिहाइड्रेशन भी हो सकता है इसीलिए हमेशा गेहूं के आटे की रोटी खानी चाहिए।

पथरी

अगर आपके पेट में पथरी है तो आपके लिए गेहूं के आटे की रोटी बहुत फायदेमंद होती है। क्योकि रोटी में फायबर की मात्रा ज़्यादा होती है इससे पथरी होने की संभावना कम हो जाती है।

ब्रेस्ट कैंसर

आजकल ब्रेस्ट कैंसर के मरीज़ बढ़ते ही जा रहे है और इसका एक बड़ा कारण हमारे खान-पान में बदलाव का है रोटी खाने से ब्रेस्ट कैंसर को रोका जा सकता है। रोटी में लिंग्नेंस होते है जो महिलाओं में होने वाले ब्रेस्ट कैंसर को नियंत्रण में रखता है।

पाचन शक्ति को बढ़ता है

रोटी में कार्बोहाईरेट और फायबर होता है जिससे हमारी पाचन शक्ति मजबूत होती है।

काम करने की उर्जा

हम पूरा दिन चाहे कुछ भी खा ले लेकिन जब हम रोटी खा लेते है। तो फिर हमारा पेट भर जाता है रोटी खाने से हमे काम करने की ताकत मिलती है इसीलिए रोटी को शारीर का अनिवार्य अंक माना जाता है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleवात-पित्त-कफ़ को कैसे संतुलित रखे, और पाए समस्त रोगों से छुटकारा-How to control vata pitta kapha
Next articleमच्छर भगाने का देशी तरीका, 1 बार में सारे मच्छर घर से छू मंतर हो जायेंगे // machar bhagane ka tarika

Leave a Reply