हृदय हमारे शरीर का सबसे व्यस्त अंग है, जो हमारे जन्म के साथ ही कार्य करना शुरू करता है तो मृत्यु के साथ ही बंद होता है। यदि आप हृदय के स्वास्थ्य को गंभीरता से लेते हैं तो एक बात सदैव ध्यान में रखें कि तेल व चिकनाई युक्त पदार्थों का ज्यादा सेवन तथा धूम्रपान हृदय के परम शत्रु हैं। अत: इनसे दूर रहें। इसके अलावा अधिक मात्रा में मांस, शराब व गरिष्ठ भोजन का सेवन भी हृदय को नुकसान पहुंचाता है। साथ ही मल, मूत्र, छींक व हिचकी के वेग को रोकना भी हृदय के लिए हानिकारक है।

कुछ आसान घरेलू उपायों से आप अपने दिल को स्वस्थ रख सकते हैं। जैसे की बचपन में लगी चोटों का ईलाज हमारे घरों में ही मिल जाया करता था। जबकि आज तो तुरंत डॉक्टर के पास दौड़ते हैं। आज भी अगर आप अपनी दादी या नानी से अपनी स्वास्‍थ्‍य समस्याओं का जि़क्र करेंगे, तो वो आपको कई नुस्खे बतायेंगी। सबसे अच्छी बात यह है कि आप भी घर बैठे इन घरेलू उपचारों से लाभ पा सकते हैं।

ऐसा भी हो सकता है कि समय की बाध्यता से या किन्हीं अन्य कारणों से आपने यह नुस्खे ना अपनाये हों, तो आज इन्हें आज़मा कर देखें-

नींबू पानी

रक्तचाप बढ़ रहा है, तो नीबू पानी पीयें। एक गिलास पानी में आधे नीबू को निचोड़ कर इसे हर दो घंटे पर पीयें।

ताजा आंवला

एक बड़े चम्मच से ताज़ा आंवले के रस और शहद का मिश्रण बनाकर इनका सेवन करें।

Gooseberries spilled out from a basket

मौसमी फल व सब्जि़यों

आजकल कम उम्र में भी उच्च रक्तचाप की समस्या हो जाती है। अगर आपको उच्च रक्तचाप की समस्या है, तो मौसमी फल व सब्जि़यों का सेवन करें।

अनार

अनार से नये सेल्स का निर्माण होता है और हृदय की बीमारियों से बचने के लिए भी यह अच्छा  है।

अंगूर

अंगूर से हृदय गति बेहतर रहती है और किसी भी प्रकार के दर्द में भी आराम मिलता है।

Grapes

शहद

रक्त संचार के लिए शहद भी अच्छा है। शहद का प्रयोग आप दूध में मिलाकर कर सकते हैं।

संतरा का  जूस

उच्च रक्तरचाप नियंत्रित रखने के लिए संतरे के जूस को नारियल के पानी में मिला कर दिन में दो से तीन बार लें।

प्याज़

प्याज़ के सेवन से रक्त में कोलेस्ट्राल का स्तर ठीक रहता है और आक्सिडेशन की प्रक्रिया ठीक से होती है।

onion_fennel_bisque

अब अपनी समस्याओं का ईलाज आप अपने घर पर ही कर सकते हैं, लेकिन अपनी स्थितियों की गंभीरता को समझते हुए चिकित्सक के पास जाना ना भूलें।

Loading...

Leave a Reply