joint pain c

घुटनों के दर्द की दवा | जोड़ो के दर्द का घरेलू उपाय | जोड़ों का दर्द का इलाज हिंदी

आज के बदलते परिवेश में खान-पान में भी कुछ न कुछ बदलाव आरहा है, क्योंकि आज वो पुराने जमाने के बिना मिलावटी शुद्ध खाद्य सामग्री नही रही। यही कारण है कि आज के इस आधुनिक और वैज्ञानिक युग मे भी बीमारियों का अंबार खड़ा है, इसमे से एक है घुटने का दर्द। हमने कई बार अपने बड़े बुजर्गो को घुटनों के दर्द से तडपते हुए देखा है। दिन रात दवाई खाने से भी उन्हें कोई आराम नही मिलता है चलने फिरने में बहुत परेशानी होती है और साथ ही घुटनों को मोड़ने में, उठने – बैठने में भी दिक्कत आती है। कभी कभी उन्हें इतना ज्यादा दर्द होता की वो ठीक ढंग से सो भी नहीं पाते और उनके घुटनों में सुजन तक भी आ जाती है। उम्र के साथ हड्डियों की बीमारी बढती जाती है। आज हम घुटनों के दर्द के ऐसे कारगर उपाय बताएंगे जो बहुत असरकारक है अगर इनको अपना लिया तो बुढ़ापे तक किसी सहारे की जरूरत नही पड़ेगी घोड़े की तरह दौड़ पाएंगे तो आइये जानते है इन उपायों के बारे में।

आइये जानें घुटने की सूजन का इलाज, घुटने में दर्द का इलाज, घुटनों में सूजन का इलाज, घुटने की ग्रीस, जोड़ों का दर्द का इलाज हिंदी, घुटने में सूजन, जोड़ों के दर्द की दवा, घुटने का घिसना।
■  उल्टी रोकने और जी मिचलाने के 10 आसान घरेलू उपाय इन हिंदी

घुटनो के दर्द (Knee Pain) के चमत्कारी घरेलू रामबाण उपाय

Ghutno Ke Dard Ka Ilaj Aur Desi Nuskhe In Hindi

# हरसिंगार एक पौधा है जिसके सफेद रंग के फूल होते है ये फूल रात को खिलकर सुबह गिर जाते है इस पौधे के 6 से 7 पत्तों को सिल बट्टे पर पीसकर इसकी चटनी बना ले और एक गलास पानी में उबाले। उबलते उबलते जब यह आधा रहा जाये तो इसको गुनगुना करके प्रतिदिन खाली पेट पीये। ऐसा करने से आपके सरीर और जोड़ो के दर्द से आपको मुक्ति मिलेगी। इस औषधि के साथ कोई अन्य दवा नहीं लेनी है। यह उपाय सबसे ज्यादा कारगर और सफल है।

# कनेर के पत्तों को उबालकर उसको उसके पत्तों की चटनी बना ले और तिल के तेल में मिलाकर घुटनों पर मालिश करे ऐसा करने से आपको दर्द से मुक्ति मिलेगी।

# आपके घुटनों में दर्द रहता है तो रोज रात को 2 चम्मच मैथी को एक ग्लास पानी में भिगो कर रख दे। और प्रात: काल खाली पेट मेथी को चबा चबा कर खाने से और मेथी का पानी पीने से आपको कभी भी घुटनो का दर्द नही होगा।

# एक ग्लास दूध में 4-5 लहसुन की कलियाँ डाल कर अच्छी तरह से उबाले और गुनगुना पीने से भी घुटनों के दर्द में आराम मिलता है।

■  अच्छी और गहरी नींद आने के 5 आसान उपाय घरेलू नुस्खे

# हर रोज आधा कच्चा नारियल खाने से बुढ़ापे में भी कभी आपको घुटनों के दर्द का परेशानी नही होगी।

# अखरोट प्रतिदिन खाली पेट खाने से आपके घुटने में कभी कष्ट नही होगा।

# रोज रात को सोने से पहले एक ग्लास दूध ने हल्दी डाल कर पीने से आपको हड्डियों में दर्द की समस्या से मुक्ति मिलेगी।

# एक दाल के दाने के बराबर थोड़ा सा चूना (जो आप पान में लगा कर खाते है) को दही में या पानी में मिला कर पीने से आपको हड्डियों में कभी दर्द नही होगा। चूने के पानी को हमेशा सीधे बैठकर ही पिए इससे आपको जल्दी आराम होगा। यह औषधि सिर्फ 1 महीने पीने से ही शरीर की किसी भी हड्डी में दर्द हो तो वो जल्दी ठीक हो जाएगा।

# सुबह और शाम को भद्र आसन करने से आपको लाभ मिलेगा।

# हड्डियों के दर्द से बचने के लिए आप अपने भोजन में 25% फल और सब्जियों को शामिल करेगे तो आपको कभी भी हड्डियों के दर्द का सामना नहीं करना पड़ेगा।

# नारियल, सेब, संतरे, मौसमी, केले, नाशपति, तरबूज और खरबूजे आदि फलों का सेवन हर रोज जरुर करे।

# गोभी, सोयाबीन, हरी पत्तेदार सब्जियों के साथ खीरे, ककड़ी, गाजर, और मेथी को अवश्य शामिल करे।

# दूध और दूध से बनी चीजे भरपूर मात्रा में खाए और कच्चा पनीर भी भोजन में शामिल करे, ऐसा करने से आपके जोड़ों के दर्द में कमी आएगी।

# मोटा अनाज, मकई, बाजरा, चोकर वाले आटे की रोटियों का जरुर उपयोग करे। क्योंकि इनमे वो सभी तत्व होता है जो आपकी हड्डियों और जोड़ो के दर्द से मुक्ति दिलाता है।

# अगर अत्यधिक सर्दी की वजह से आपके दादा या दादी के घुटनों में बहुत अधिक पीड़ा है तो सरसों के तेल में लहसुन और अजवायन को पकाये और फिर जब यह तेल गुनगुना हो जाये तो घुटनों पर मालिश करे, उनका दर्द छू मंतर हो जायेगा।

■  जल्दी पतला होने और पेट अंदर करने की पतंजलि आयुर्वेदिक दवा

दोस्तों Knee Pain home and Ayurveda treatment in Hindi, Ghutno ka dard, Ghutno ke dard ka ilaj in hindi का ये लेख कैसा लगा हमें जरूर बताएं और अगर आपके पास घुटने के दर्द का इलाज, घुटने के दर्द का आयुर्वेदिक इलाज, जोडों और घुटनों के दर्द का इलाज के घरेलू और आयुर्वेदिक उपाय, Joints and knee pain relief treatment in hindi के सुझाव है तो हमारे साथ शेयर करें।

1 COMMENT

  1. […] क्योंकि पानी पीने से हमारे शरीर में हड्डियों में चिकनाहट रहती है और जिससे हमें चलने-फिरने में […]

Leave a Reply