माँ बनना हर महिला के लिए बड़ा सुखद एहसास होता हैं। गर्भावस्था में हर महिला और उसके परिजन छोटी से छोटी बातों का ख्याल रखते हैं पर देखने में आया है की अक्सर डिलीवरी के बाद एक माँ अपने स्वास्थ्य के प्रति इतना ख्याल नहीं रख पाती है और उसका सारा ध्यान बच्चे और अपने परिवार की तरफ चला जाता हैं।

डिलीवरी के बाद खान-पान और व्यायाम की तरफ अनदेखी करने से ज्यादातर महिलाओं की समस्या होती है बिगड़ा हुआ फिगर और उसमें भी उनको सबसे ज्यादा परेशान करता है बाहर निकला हुआ टमी यानी पेट। अपने टमी को अंदर करने और अपने फिगर को दोबारा शेप में लाने के लिए आपको कड़ी मशक्कत करनी होती है और इसके लिए आपकी मदद कर सकता है सही आहार-विहार का चुनाव।

महिलाओ में डिलीवरी के बाद अपने पेट को कम करने के लिए अनुशासन और संयम रखने की जरुरत होती हैं। डिलीवरी के बाद महिलाओ ने फिर से पहले जैसा फिगर पाने के लिए नीचे दिए हुए बातों का ख्याल रखना चाहिए :

प्रेगनेंसी / डिलीवरी के बाद अपना वजन और पेट कैसे कम करे ?

प्रेगनेंसी / डिलीवरी के बाद अपना वजन कम करने के उपाय इस प्रकार हैं :

  • अगर आप चाहती हैं कि आपका पेट पहले की तरह समतल दिखे तो हमेशा कैलोरी कंट्रोल डाइट लेने की कोशिश करें। आप चाहे तो आप के आहार में फल, साबुत अनाज, हरी सब्जियां आदि शामिल कर सकती है ऐसा करने से देर से भूख लगने के कारन एक साथ खाना खाने की आदत भी कम हो जाएगी। इसके अलावा तली-भुनी और ज्यादा चीनी और वसा वाले भोजन से परहेज करें क्योंकि यह शरीर में चर्बी को बढ़ाते हैं।

no to oily food

  • खाने में पौष्टिक चीजों को ज्यादा शामिल करें और जंक फूड मिठाई चिप्स आदि न खाएं। हमेशा शुगर फ्री फूड खाने की कोशिश करें। सॉफ्ट ड्रिंक लेने से बचें क्योंकि यह पेट में गैस करते हैं जिससे पेट और बाहर निकलता है।
  • जितना हो सके कच्चा सलाद और कच्ची सब्जियां खाने की कोशिश करें। पकने के दौरान अधिकतर सब्जियों के पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं और दूसरी बात यह है कि कच्चा भोजन खाने से आपका पेट लंबे समय तक भरा रहता है क्योंकि शरीर धीरे-धीरे पोषक तत्व को सोखता है।
  • अपने खाने में पेट को कम करने वाले पदार्थ जैसे काली मिर्च, पुदीना, नींबू ,अनानास, दही, पपीते आदि को शामिल करें।
  • एक साथ बहुत अधिक खाना खाने से बेहतर है कि आप दिन भर में थोड़ा-थोड़ा करके खाएं , इससे आपकी ब्लड शुगर और व भूख दोनों नियंत्रित रहेंगे।
  • हर रोज सुबह गुनगुने पानी में आधा नींबू और दो चम्मच शहद मिलाकर पीने से भी शरीर का आकार पूर्ववत आने में मदद होती है। आप अपने रूटीन में ग्रीन टि या हर्बल टी को अपनाए, इनसे भी आपका वजन कम हो सकता है। इसके अलावा बिना चीनी या शहद मिला दूध पीना भी फायदा करता है पर ध्यान रहे की दूध मलाई रहित पिए।

green-tea

  • बच्चे को जितना हो सके उतना स्तनपान कराएं। स्तनपान कराने से अतिरिक्त वसा जलती है साथ ही गर्भावस्था के दौरान फैला हुआ गर्भाशय भी पुराने आकार में आ जाता है।
  • नींबू पानी पीने से प्राकृतिक रूप से शरीर का मेटाबोलिजम सही रहता है। आप चाहें तो पानी में नींबू, खीरा, संतरा, पुदीना आदि के फ्लेवर डालकर पीए। पुदीने वाली चाय पीने से भी आप को फायदा हो सकता है।
  • अगर आपको कब्ज की शिकायत रहती है तो उच्च फाइबर युक्त भोजन करें। दिन भर में एक महिला को करीब 25 ग्राम फाइबर लेना चाहिए। इसके लिए अपने आहार में अधिक मात्रा में साबुत अनाज, फल, सब्जियां, ड्राई फ्रूट्स आदि को शामिल करें। इसके अलावा कम से कम 30 मिनट के लिए हफ्ते में 5 दिन चलना या कोई और व्यायाम जरूर करें।
  • दिन भर में 10 से 12 ग्लास तक सादा पानी पिए। पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से शरीर के टॉक्सिन्स बाहर निकलकर शरीर की सफाई होती है। कोशिश करे की फ्रीज का पानी न पिए।
  • दिन में तीन बार याने की सुबह उठने, पर दोपहर में और रात को सोने के पहले एक गिलास हल्का गर्म पानी जरूर पीएं।

drinking water

  • इसके अलावा दिन में 30 मिनट के लिए कार्डियक एक्सरसाइज, वर्कआउट, प्राणायाम आदि करें। एरोबिक्स, पावर योगा को सप्ताह में 2 दिन डॉक्टर की सलाह से कर सकती है।

याद रखिए कि कोई भी परिणाम आपको जल्दी मिलने वाला नहीं है, इसके लिए आपको थोड़ा धीरज रखना जरूरी होता है। साथ ही अपने आसपास ऐसी महिला हो तो एक दूसरे को प्रोत्साहित करती रहे। वजन कम करने के लिए आपका डाइट, आपकी मेहनत, एक्टिव लाइफस्टाइल और पॉज़िटिव थिंकिंग इनका संगम होना बहोत जरूरी है।

योग : गर्भावस्था के पश्चात डिलीवरी होने के बाद आप अपना बढे हुए पेट के आकार को दुबारा पहले जैसा समतल करने के लिए नीचे दिए हुए योग कर सकते हैं।

  • पश्चिमोत्तानासन
  • कपालभाति
  • शशांकासन
  • सूर्यनमस्कार
  • ताड़ासन
  • भुजंगासन
  • गरुड़ासन
  • त्रिकोणासन

प्रेगनेंसी / डिलीवरी के बाद अपना वजन और पेट कम करने के लिए किन चीजों से करे परहेज़ ?

  • सबसे खास बात चिंता और तनाव बिल्कुल ना ले, क्योंकि इससे शरीर में कोर्टिसोल नामक हार्मोन का प्रोडक्शन ज्यादा होता है जिसके कारण पेट के हिस्से में चर्बी इकठ्ठी हो जाती है।

stressed woman

  • आवश्यकता अनुसार ही खाना खाए। भूख लगने पर जरुरत से ज्यादा खाने पर पेट और भी ज्यादा निकलता है।
  • पेट कम करने के लिए जरूरत से ज्यादा डाइटिंग ना करें। इससे शरीर में पोषण की कमी हो सकती है और कमजोरी आ सकती है।
  • मैदे से बनी चीजें बिल्कुल भी ना खाए जैसे सफेद ब्रेड, पास्ता आदि। इसके अलावा आलू, सफेद चावल अपने डाइट में शामिल ना करें। आप चाहे तो ब्राउन राइस और गेहू से बनी ब्रेड शामिल कर सकते हैं लेकिन मर्यादित मात्रा में। फ़ास्ट फ़ूड से परहेज करें।
  • खाना खाने के तुरंत बाद न सोए ऐसा करने से शरीर में कैलोरी कम जलती है और वसा इकट्ठा होने लगती है जिसकी वजह से मोटापा बढ़ सकता है।
  • सोने के 2 घंटे पहले कुछ न खाएं। खाना और सोने के बीच में कम अंतराल होने से शरीर सुस्त हो जाता है और खाने का पाचन भी ठीक से नहीं हो पाता है।
  • शरीर फिट रखने के चक्कर में लगातार वर्कआउट ना करें। याद रखिए शरीर को भी थोड़ा आराम की जरूरत होती है, इसलिए बीच में थोड़ा ब्रेक लें चाहे तो फिर से वर्कआउट कर सकते हैं।
  • फल के जूस वैसे तो शरीर को फायदा करते हैं लेकिन इस बात का ध्यान रहे कि उसमें चीनी ना हो। कोशिश करें कि जूस की जगह सीधे फल खाएं।

healthy-fruit-juices

इस तरह ये आसान टिप्स आजमाकर आप प्रेगनेंसी / डिलीवरी के बाद अपना वजन और पेट को आसानी से कम कर सकते हैं। अगर आपकी ऑपेरशन द्वारा डिलीवरी हुई है तो कोई भी व्यायाम या योग करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य ले। डिलीवरी के बाद माँ को स्तनपान द्वारा अपने बच्चे को भी पोषण देना होता है इसलिए माँ को संतुलित पोषक आहार अवश्य लेना चाहिए।

Loading...

Leave a Reply