बाल झड़ने के कारण

बालों की प्राकृतिक नवीकरण प्रक्रिया के दौरान रोज लगभग  पर 50 से 60 बाल झडते हैं। हालांकि, कुछ लोग अत्यधिक बालों के झड़ने कि शिकायत करते हैं, जो सामान्य नहीं है और इस पर जल्दी ध्यान दिया जाना चाहिए।

आहार की सही मात्रा न लेना के कारण

जो लोग कम प्रोटीन आहार ले रहे हैं या जिनका खाने के तरिके असामान्य है, उनमें प्रोटीन कुपोषण का विकास हो सकता है। प्रोटीन के अभाव से शरीर बालों को उगाना रोक सकते हैं, जिससे कुछ महिनों बाद बाल झडना शुरू हो जाते हैं। बाल आसानी से जड़ों से बाहर निकाले जा सकते हैं, यह बालों के झडने का मुख्य संकेत हैं। यदि आप वजन कम करने के लिए या किसी भी अन्य कारणों से डाइटिंग  पर हैं, तो सुनिश्चित करें की आप प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा लें।

दवाई के दुष्प्रभाव के कारण

कुछ दवाओं के दुष्प्रभाव पुरुषों में अस्थायी रुप से बालों के झड़ने का नेतृत्व कर सकते हैं। जो लोग गठिया, हृदय की समस्याओं, उच्च रक्तचाप, अवसाद, खून पतला करने वाली दवाओं  और गठिया के लिए उपचार के माध्यम से दवा ले रहे हैं, वह बालों के झड़ने की समस्या का शिकार हो सकते हैं।  इसके अलावा, विटामिन ए की उच्च खुराक भी बालों के झडने का नेतृत्व कर सकती हैं।

hairfall

बॉडी में आयरन की कमी

कुछ मामलों में आयरन की कमी के कारण बालों का झड़ना शुरु हो सकता हैं।  जो लोग अपने आहार में आयरन  पर्याप्त मात्रा  में नहीं लेते है या जिनका शरीर पूरी तरह से भोजन में मौजूद आयरन को अवशोषित नहीं कर पाता हैं, उनमें यह समस्या दिखती हैं |

हेयर स्टाइलिंग के कारण

ब्लीच , स्ट्रेनग्थनरर्स, रंग, टिंट, रिलॅक्सर्स और परमनंट वेव्ह (घुंगराले बनाना) जैसे रासायनिक उपचार भी पुरुषों में बालों के झड़ने के साथ जुडे हुए हैं। यह विशेष रूप से तब होते हैं जब उत्पादों का गलत चुनाव और इनका इस्तेमाल सुरक्षित रुप से नहीं किया गया हो।

बालो को झड़ने से रोकने के उपाय-

नीम

नीम के इस्तेमाल से न केवल बाल घने होते हैं बल्कि रूसी व जूएं जैसी समस्याएं भी दूर होती हैं। नीम का पाउडर तैयार कर लें। इसे दही या नार‌ियल तेल में मिलाकर बालों की जड़ तक मसाज करें।

आंवला

आंवला में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स भरपूर मात्रा में हैं जो बाल बढ़ने में मदद करते हैं। आंवले को हिना, ब्राह्मी पाउडर व दही में मिलाकर पैक बनाएं और बालों पर लगाएं।

Gooseberries spilled out from a basket

भृंगराज

मजबूत और घने बालों के लिए आयुर्वेद में भृंगराज का काफी महत्व माना गया है। भृंगराज तेल न स‌िर्फ गंजापन दूर करता है बल्क‌ि समय से पहले बालों को सफेद नहीं होने देता।

ब्राह्मी

ब्राह्मी और दही का पैक बनाकर बालों पर लगाने से बाल झड़ना कम हो जाएंगे। ब्राह्मी के तेल से न‌ियम‌ित मसाज करने पर भी बाल घने होते हैं।

शहद

शहद कई बीमारियों को दूर करने में सक्षम है। शहद के प्रयोग से बालों का झडऩा भी रोका जा सकता है। शहद को बालों में लगाने से बालों का गिरना बंद हो जाता है। दालचीनी भी बालों की समस्या को दूर करने का कारगर उपाय है। दालचीनी और शहद के को मिलाकर बालों में लगाइए। इससे बालों का झड़ना बंद होगा। गरम जैतून के तेल में एक चम्मच शहद और एक चम्मच दालचीनी पाउडर मिलाकर उनका पेस्ट बनाइए। नहाने से पहले इस पेस्ट को सिर पर लगाइए और कुछ समय बाद सिर को धो लीजिए। इससे बालों का गिरना कम होगा

honeyy

Loading...

1 COMMENT

Leave a Reply