हीमोग्लोबिन की कमी का सबसे प्रमुख कारण पौष्टिक खाने की कमी को ही माना जाता है। खून में हीमोग्लोबिन की कमी की यदि हम बात करें तो यह अक्सर तब हो जाती है जब खून में आयरन की कमी हो जाती है | हीमोग्लोबिन की कमी ऐसी बीमारी है जिसकी वजह से अन्य बहुत सारी बीमारियों के होने का खतरा बढ़ जाता है |

आइये जानें हीमोग्लोबिन की कमी से होने वाले रोग, हीमोग्लोबिन की कमी के लक्षण, हीमोग्लोबिन की मात्रा, खून की कमी का इलाज, हीमोग्लोबिन कैसे बढ़ाये |
■   उँगलियों को रगड़कर करें शरीर के सभी दर्द को जड़ से दूर, 30 सेकंड में दिखेगा परिणाम

इसके अलावा कुछ बीमारियों के कारण भी शरीर में खून में हीमोग्लोबिन की कमी हो सकती है|

खून में हीमोग्लोबिन की कमी के सामान्य लक्षण

•   नाखून पतले, खुरदरे व चपटे हो जाते हैं तथा उनमें लम्बी-लम्बी धारियां सी पड़ सकती हैं ।
•   सिर दर्द बना रहना
•   हल्के एनीमिया(खून की कमी) में लक्षण कम नज़र आते हैं,
•   सांस लेने में तकलीफ होना या साँस का फूलना
•   चक्कर आना एनीमिया से ग्रसित व्यक्ति में एक सामान्य लक्षण है
•   खून की कमी या एनीमिया में हृदय की धड़कन तेज होने के अलावा चिडचिड़ापन भी हो सकता है
•   छाती में हलका या तेज दर्द होना एवं सीने में ऐठन होना
•   त्वचा व नाखूनों का पीला होना
•   आंखें का पीली हो जाना

■   नीम के बीज हैं कैंसर के सेल्स को जड़ से खत्म करने में कारगर, 3 दिन में मिलेगा निश्चित लाभ

हीमोग्लोबिन की कमी दूर करने के आयुर्वेदिक देसी नुस्खे

अंजीर 

3 से 5 अंजीर को दूध में उबालकर या अंजीर खाकर दूध पीने से हीमोग्लोबिन की मात्रा तेजी से बढती है |

चुकंदर 

शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ाने के लिए चुकंदर सबसे अच्छा खाद्य प्रदार्थ है. चुकंदर पोषक तत्वों की खान है. इसमें आयरन, फोलिक एसिड, फाइबर, और पोटेशियम ये सभी सही मात्रा में पाया जाता है. ये शरीर की लाल रक्त कोशिकाओं की संख्या में तेजी से वृद्धि करता है|

तिल

दो घंटे के लिए 2 चम्मच तिलों को पानी में भिगों लें और बाद में पानी से छानकर इसका पेस्ट बना लें। अब इसमें 1 चम्मच शहद मिलाएं और दिन में दो बार सेवन करें।

अश्वगंधा 

1 से 2 ग्राम अश्वगंधा चूर्ण को आँवले के 10 से 40 मि.ली. रस के साथ लेने से हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ता है।

■   इन तरीको से पहले ही पता चल जाता है “कैंसर” का, पढ़िए जरूर ताकि समय पर इलाज़ कर ज़िन्दगी बच सके।

किसमिश

एक गिलास पानी में एक नींबू का रस निचोड़कर उसमें 20 से 25 दाने किसमिश रात्रि में भिगो दें। सुबह छानकर पानी पी जायें एवं किसमिश चबा जायें। यह एक अदभुत शक्तिदायक प्रयोग है।

अनार

अनार हीमोग्लोबिन (Hemoglobin)बढ़ाने में बहुत लाभकारी होता है. अनार में आयरन और कैल्शियम के साथ-साथ प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर जैसे तत्व होता हैं, जिनसे शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ाने में मदद मिलती है|

हल्दी 

शाम को गर्म पानी में दो चुटकी हल्दी पीने से शरीर सदा नीरोगी और बलवान बना रहता है तथा यह प्रयोग हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ाने में सहायता करता है।

जामुन 

जामुन का रस और आंवले का रस बराबर मात्रा में मिलाकर सेवन करने से हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ता है।

गुड़ 

गुड़ का सेवन करना भी एक बेहद उत्तम तरीका है. गुड़ में आयरन फोलेट और कई विटामिन बी शामिल हैं जो हीमोग्लोबिन स्तर को बढ़ाने के लिए और लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में मददगार होते हैं|

आंवला 

विटामिन सी की कमी हो जाने के कारण भी हीमोग्लोबिन(Hemoglobin) का स्तर कम हो जाता है। जब शरीर में विटामिन सी की कमी होती है तो इस कारण आपका शरीर सही मात्रा में आयरन को सोख नहीं पाता। इसीलिए विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थों के सेवन से आप हीमोग्लोबिन का स्तर सही कर सकते हैं। विटामिन सी की कमी पूरी करने का सबसे अच्छा श्रोत आंवला है | इसका चटनी ,मुरब्बा या रस के रूप में नियमित सेवन करे |इसके नियमित सेवन करने से हीमोग्लोबिन का स्तर तेजी से बढ़ता है।

■   लीवर ख़राब होने लगा है? तो ये पोस्ट आपके लिए वरदान साबित होगी, जरूर पढ़े और शेयर करें !!!

दोस्तों आयरन की कमी के कारण, खून की कमी क्यों होती है का ये लेख कैसा लगा हमें जरूर बताएं और अगर आपके पास हीमोग्लोबिन बढ़ाने के उपाय,hemoglobin ki kami ke lakshan,hemoglobin ki kami dur karne ke upay,hemoglobin ki kami kaise puri kare के सुझाव है तो हमारे साथ शेयर करें।

Loading...

Leave a Reply