मुनक्का के फायदे और लाभ इन हिंदी | मुनक्का दूध के फायदे इन हिंदी

मुनक्का यानी बड़ी दाख को आयुर्वेद में एक औषधि माना गया है। बड़ी दाख यानी मुनक्का छोटी दाख से अधिक लाभदायक होती है। आयुर्वेद में मुनक्का को गले संबंधी रोगों की सर्वश्रेष्ठ औषधि माना गया है। मुनक्का (Raisin) के बहुत से फायदे हैं। अंगूर को जब विशेष रूप से सुखाया जाता है तब उसे मुनक्का कहते हैं। अंगूर के सभी गुण मुनक्का में होते हैं। मुनक्का दो प्रकार का होता है लाल मुनक्का और काला मुनक्का। मुनक्का खाने से खून बढ़ता है और वायु दोष भी दूर होता है। इसको खाने से रक्त की वृद्धि होती है और वायु, पित्त, कफ दोष दूर होते हैं।

चलिए आज हम मुनक्का के बारे में और जानते हैं। आप 5-10 मुनक्का को रात को पानी में गलाकर सुबह इसका पानी सहित सेवन कर सकते है, या फिर रात को एक गिलास दूध में मुनक्का उबालकर फिर इसका सेवन कर सकते है, आइए जाने रात को या सुबह मुनक्का का सेवन आपको कितने फ़ायदे दे सकता है…

आइये जानें मुनक्का के बीज के फायदे, मुनक्का और दूध, मुनक्का की तासीर, मुनक्का का पेड़, मुनक्का कैसे बनता है, मनुका उपयोग, मुनक्का खाने के फायदे, Benefits of Munakka in Hindi।
■  चेहरे और नाक से ब्लैक हेड्स हटाने के 5 आसान उपाय और नुस्खे

                   मुनक्का के अद्भुत फ़ायदे

Munakka (Raisin) Ke Fayde Aur Labh In Hindi

रक्त में बढ़ोतरी और रक्त शोधक

शाम को सोते समय लगभग 10 या 12 मुनक्का को धोकर पानी में भिगो दें। इसके बाद सुबह उठकर मुनक्का के बीजों को निकालकर इन मुनक्कों को अच्छी तरह से चबाकर खाने से शरीर में खून बढ़ता है। इसके अलावा मुनक्का खाने से खून साफ होता है और नाक से बहने वाला खून भी बंद हो जाता है। मुनक्का का सेवन 2 से 4 हफ्ते तक करना चाहिए।

कमज़ोरी, ह्रदय और आंतो के विकार, नजला एलर्जी

250 ग्राम दूध में 10 मुनक्का उबालें फिर दूध में एक चम्मच घी व खांड मिलाकर सुबह पीएं। इससे शारीरिक कमज़ोरी दूर होती हैं। इसके उपयोग से हृदय, आंतों और खून के विकार दूर हो जाते हैं। यह कब्ज नाशक है। जिन व्यक्तियों के गले में निरंतर खराश रहती है या नजला एलर्जी के कारण गले में तकलीफ बनी रहती है, उन्हें सुबह-शाम दोनों वक्त चार-पांच मुनक्का बीजों को खूब चबाकर खा ला लें, लेकिन ऊपर से पानी ना पिएं। दस दिनों तक निरंतर ऐसा करें।

बच्चों की बिस्तर गिला करने की समस्या

जो बच्चे रात्रि में बिस्तर गीला करते हों, उन्हें दो मुनक्का बीज निकालकर रात को एक सप्ताह तक खिलाएं।

■  कमर पतली करने और स्लिम होने के 5 आसान उपाय और तरीके

सर्दी जुकाम

सर्दी-जुकाम होने पर सात मुनक्का रात्रि में सोने से पूर्व बीज निकालकर दूध में उबालकर लें। एक खुराक से ही राहत मिलेगी। यदि सर्दी-जुकाम पुराना हो गया हो तो सप्ताह भर तक लें।

आंखों की रौशनी, नाख़ून, सफ़ेद दाग

आंखों की ज्योति बढाने, नाखूनों की बीमारी होने पर, सफेद दाग, महिलाओं में गर्भाशय की समस्या में मुनक्का को दूध में उबालकर थोड़ा घी व मिश्री मिलाकर पीने से लाभ होता है। जितना पच सके उतने मुनक्का रोज खाने से सातों धातुओं का पोषण होता है।

शरीर बलवान, ब्लड प्रेशर

12 मुनक्का, 5 छुहारे, 6 फूल मखाने दूध में मिलाकर खीर बनाकर सेवन करने से शरीर पुष्ट होता है। जिनका ब्लडप्रेशर कम रहता है, उन्हें हमेशा अपने पास नमक वाले मुनक्का रखना चाहिए। यह ब्लडप्रेशर को सामान्य करने का सबसे आसान उपाय है।

पुराना बुखार छूमंतर

दस मुनक्का एक अंजीर के साथ सुबह पानी में भिगोकर रख दें।रात में सोने से पहले मुनक्का और अंजीर को दूध के साथ उबालकर इसका सेवन करें। ऐसा तीन दिन करें। कितना भी पुराना बुखार हो, ठीक हो जाएगा।

कब्ज

प्रतिदिन सोने से एक घंटा पहले दूध में उबाली गई 11 मुनक्का खूब चबा-चबाकर खाएं और दूध को भी पी लें। इस प्रयोग से कब्ज की समस्या में तत्काल फायदा होता है।

■  जल्दी दाढ़ी और मूंछ बढ़ाने के 5 आसान तरीके और घरेलू उपाय

दोस्तों Health Benefits of Raisins, मुनक्का में औषधीय गुण, munakka khane ke fayde, मुनक्का खाने के फायदे, मुनक्का के लाभ का ये लेख कैसा लगा हमें जरूर बताएं और अगर आपके पास doodh mein munakka dalkar peene ke fayde, munakka doodh peene ka tarika, munakka doodh ka sevan kaise kare के सुझाव है तो हमारे साथ शेयर करें।

Leave a Reply