pasli me dard

पसलियों में दर्द (Rib Pain) एक ऐसी समस्या है जो बहुत दर्दनाक भी हो सकती है। यह समस्या कई कारणों से होती है और इसमें शरीर के प्लेउरा (Pleura) पर सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ता है। असंतुलित खानपान और खराब जीवनशैली व चोट आदि के कारण पसलियों में दर्द की समस्या होती है। इस समस्या में कई लोगों को दर्द के साथ सूजन का भी सामना करना पड़ता है। पसलियों में दर्द की समस्या में जब आप सांस लेते हैं या पसलियों पर हल्का सा भी दबाव डालते हैं तो यह दर्द शुरू हो जाता है। इस दर्द की समस्या कई तरह का उपचार किया जाता है। आयुर्वेद में भी पसलियों के दर्द की समस्या के बारे में कई तरह के इलाज के बारे में बताया गया है। आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल कर आप पसलियों में दर्द की समस्या से निजात पा सकते हैं। हालांकि स्थिति गंभीर होने पर इसका इस्लाज किसी विशेषज्ञ चिकित्सक की देखरेख में किया जाना चाहिए। लेकिन ये आयुर्वेदिक नुस्खे पसलियों में दर्द की समस्या को कम करने में बहुत कारगर माने जाते हैं, आइये जानते हैं इन नुस्खों के बारे में।

क्यों होती है पसलियों में दर्द की समस्या?

पसलियों में दर्द की समस्या चोट या पसलियों में कमजोरी आदि के कारण होती है। कई पसलियों में चोट लगने की वजह से इंसान को गंभीर दर्द और सूजन की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। अक्सर यह दर्द किसी चोट या किसी बीमारी की वजह से ही होता है। कुछ मामलों में पसलियों के आसपास मांसपेशियों में खिंचाव के कारण भी दर्द की समस्या हो सकती है। मांसपेशियों में खिंचाव आने की वजह से पसलियों में होने वाली दर्द की समस्या ज्यादा गंभीर नहीं होती है और यह इलाज के बाद दो से तीन दिन में ठीक भी हो सकती है। इसके अलावा पसलियों में दर्द की समस्या हड्डियों में कमजोरी की वजह से भी हो सकती है। सामान्यतः पसलियों में दर्द की समस्या के प्रमुख कारण ये माने जाते हैं।

  1. पसलियों में चोट लगने की वजह से।
  2. सीने में चोट लगने पर।
  3. ऑस्टियोपोरोसिस जैसे हड्डियों से जुड़े रोग।
  4. फेफड़ों की परत में सूजन की समस्या होने पर।
  5. मांसपेशियों की ऐंठन।
  6. पसलियों में सूजन होने पर।

पसलियों में दर्द की समस्या में अपनाएं ये आयुर्वेदिक उपाय 

पसलियों में दर्द की समस्या में व्यक्ति को सांस लेने में तकलीफ और पसलियों पर दबाव पड़ने पर दर्द होता है। इस समस्या की वजह से बुखार और ठंड लगने की समस्या भी हो सकती है। इसके लक्षण महसूस होने पर तुरंत इलाज से फायदा मिलता है। आप पसलियों के दर्द की समस्या में आयुर्वेदिक नुस्खों का इस्तेमाल कर दर्द से राहत पा सकते हैं। पसलियों दर्द होने या चोट लगने पर इन आयुर्वेदिक नुस्खों का इस्तेमाल प्राचीन काल से ही किया जा रहा है। आप पसलियों में दर्द की समस्या में इन आयुर्वेदिक नुस्खों का सहारा ले सकते हैं।

1. पान में खाए जाने वाले चूने का इस्तेमाल

पसलियों में चोट की वजह से अन्य कारणों से दर्द होने पर आप पान और शहद आदि में खाए जाने वाले चूने का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस दर्द में चूने का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद माना जाता है। लोग प्राचीन काल से ही इस समस्या में चूने का इस्तेमाल आयुर्वेद में बताये गए तरीके से करते हैं। आप पसलियों में दर्द से राहत पाने के लिए पान या शहद में खाए जाने वाले चूने को लेकर उसका पेस्ट तैयार कर लें। अब इस पेस्ट को दर्द वाली जगह पर लगा दें। ऐसा करने से थोड़ी ही देर में आपको आराम मिलेगा।

2. पसलियों में दर्द की समस्या में सरसों के तेल का इस्तेमाल

पसलियों में दर्द होने पर सरसों के तेल का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद माना जाता है। इस समस्या में आप सरसों के तेल के साथ तारपीन के तेल को मिलाएं और इसकी मालिश पसलियों पर करें। दिन में दो से तीन बार मालिश करने से आपको दर्द से छुटकारा मिलेगा।

3. गेहूं की रोटी का इस्तेमाल

पसलियों में दर्द की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप गेहूं के आटे से बनी रोटी का इस्तेमाल कर सकते हैं। आयुर्वेद में इसे दर्द से राहत पाने के लिए कई समस्याओं में इस्तेमाल में लाया जाता है। आप पसलियों के दर्द में गेहूं के आटे से एक मोटी रोटी बनाएं और इसे एक तरफ से सेंक लें। जिस तरफ सिंकाई नहीं हुई है उस तरफ हल्का गुनगुना सरसों का तेल और हल्दी का पेस्ट लगाएं। अब इस रोटी को दर्द वाली जगह पर किसी कपड़े की सहायता से बांध दें। ऐसा करने से आपको पसलियों के दर्द की समस्या में तुरंत आराम मिलेगा। अगर आपको किसी अन्य जगह पर हड्डियों में दर्द हो रहा है तो उस स्थिति में भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

4. जीरा का इस्तेमाल

जीरा को आयुर्वेद में औषधि के रूप में इस्तेमाल में लाया जाता है। जीरा में तमाम औषधीय गुण भी पाए जाते हैं। पसलियों के दर्द में आप दो चम्मच जीरा को एक गिलास गर्म पानी में मिला लें। थोड़ी देर बाद इसे अच्छी तरह से निचोड़ लें और फिर इससे दर्द वाली जगह की सिंकाई करें।

5. पसलियों के दर्द में लहसुन का इस्तेमाल

लहसुन के इस्तेमाल से पसलियों के दर्द की समस्या से छुटकारा मिलता है। आप दर्द होने पर लहसुन को हल्का भूनकर इसका चूर्ण बना लें। अब इसमें थोड़ी सी शहद मिलाकर मरीज को खाने के लिए दें। इसका सेवन करने से पसलियों का दर्द दूर होता है। पसलियों के दर्द की समस्या में इसका सेवन दिन में दो बार करें।

ऊपर बताये गए सभी आयुर्वेदिक नुस्खे पसलियों के दर्द की समस्या में फायदेमंद होते हैं। चोट आदि लगने के कारण अगर आपकी पसलियों में दर्द हो रहा है तो आप इनका इस्तेमाल कर सकते हैं। पसलियों में दर्द की समस्या गंभीर होने पर आप चिकित्सक की सलाह जरूर लें। कुछ लोगों में पसलियों का दर्द हड्डियों की कमजोरी या कैंसर की बीमारी की वजह से भी होता है। ऐसा होने पर इलाज जरूर कराना चाहिए।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleस्वस्थ रहने के लिए इन 6 समय पर जरूरी पीएं एक गिलास पानी, बीमारियों से रहेंगे हमेशा दूर
Next articleइन परेशानियों में न करें लहसुन का सेवन

Leave a Reply