किडनी सिकुड़ने का घरेलु उपाय और नुस्ख़े इन हिंदी

दोस्तों किडनी फेलियर का एक सबसे बड़ा कारन है किडनी का सिकुड़ना। अगर किडनी सिकुड़ जाए तो क्या करें.

जब हमारी किडनी सिकुड़ जाती है तो किडनी की छोटी रचना जिसे हम नेफ्रॉन्स कहते है जो फ़िल्टर का कम करती है ये नेफ्रान्स दब जाते है और उनका फंक्शन ठीक से नहीं हो पता जिससे किडनी फ़िल्टर भी ठीक से नहीं हो कर पाती और वही बिषैला पदार्थ हमारे ब्लड में शरीर में जाने लगता है और Creatinine, urea ये सब ब्लड में बढ़ जाते है।

आइये जानें किडनी सिकुड़ना, किडनी सिकुड़ने का घरेलु इलाज और आयुर्वेदिक उपचार इन हिंदी, किडनी सिकुड़ने पर क्या करना चाहिए, किडनी रोग का इलाज इन हिंदी, नेफ्रोटिक सिंड्रोम ट्रीटमेंट इन आयुर्वेद, नेफ्रोटिक सिंड्रोम का इलाज है, नेफ्रोटिक सिंड्रोम ट्रीटमेंट इन हिंदी, किडनी पुनर्जीवित, नेफ्रोटिक सिंड्रोम क्या है, हिंदी में नेफ्रोटिक सिंड्रोम परिभाषा, गुर्दे का रोग।

ऐसे मरीज जिनकी किडनी सिकुड़ गयी है और डॉक्टर ने बोल दिया है की इसका कोई इलाज नहीं है किडनी ट्रांस्प्लांट के आलावा वो मरीज निराश न हो। उनके लिए विशेष आयुर्वेदिक इलाज बता रहें हैं आयुर्वेदिक विशेषज्ञ डॉ. योगेश गौतम जी.

👉 इसे भी पढ़ें : अगर आपकी किडनी खतरे में है तो किडनी देगी आपको ये संकेत जिनको जानकार आप अलर्ट हो जाइये

जिन मरीजों की किडनी सिकुड़ गयी हो और डॉक्टर उनको किडनी ट्रांसप्लांट ही एक मात्र विकल्प बता रहें हों ऐसे मरीजो को करना क्या है के “मकोय” यह एक पौधा होता है जो पूरे भारत में पाया जाता है इसके फल छोटे छोटे होते है कुछ लोग इसे खाते भी है. इसका पूरा पौधा ले लीजिये इसको अच्छे से धुलाई कर के इसका रस निकाल लें, इस मकोय के रस को 20 ml दिन में दो बार पीना है तीन महीने तक लगातार.

3 महीने बाद सोनोग्राफी करवा के देखे किडनी के सिकुड़ने में यह बहुत ही लाभकारी है। डॉ योगेश गौतम.

विशेष – मकोय की सब्जी भी बना कर खायी जाती है. इसके फल भी खाए जाते हैं. इसका अर्क भी आता है. जिस भी प्रकार से किडनी के रोगी इसका सेवन करें तो उनको लाभ होगा.

👉 इसे भी पढ़ें : कैंसर का ऐसा घरेलु इलाज, जो लास्ट स्टेज में भी करता है काम.

दोस्तों kidney sikudne ka gharelu ilaj in hindi, kidney sikudne par kya kare, kidney sikudna kya hai  का ये लेख कैसा लगा हमें जरूर बताएं और अगर आपके पास kidney sikudne ka gharelu ilaj ayurvedic nuskhe aur dawa in hindi के सुझाव है तो हमारे साथ शेयर करें।

Leave a Reply