कद्दू की सब्जी एक ऐसा व्यंजन है जिसका सेवन भारत में खूब किया जाता है। कद्दू का इस्तेमाल हम सभी ने कभी न कभी किया ही होगा। कद्दू के फल की सब्जी को कई तरह से डाइट में शामिल किया जाता है। कई जगहों पर कद्दू को सीताफल के नाम से भी जानते हैं। कद्दू के फल और उसके पत्तों का साग भी लोग खूब खाते हैं और ये सेहत के लिए फायदेमंद भी माने जाते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि कद्दू के फल और उसके पत्तों के अलावा कद्दू के फूल (Pumpkin Flower) का भी सेवन किया जाता है। जी हां, कद्दू के फूलों का सेवन भी उसकी सब्जी से कम फायदेमंद नहीं होता। नारंगी और पीले रंग का कद्दू का फूल सेहत के लिए वरदान माना जाता है। क्षेत्रीय व्यंजनों में कई जगह खासकर उत्तर भारत में इसका खूब इस्तेमाल होता है। कद्दू के फल की सब्जी की तरह ही इसके फूलों से भी कई तरह की डिश तैयार की जाती है। आइए जानते हैं कद्दू के फूलों का सेवन किस तरह से हमारे स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाता है और इसे अपनी डाइट में कैसे शामिल करें?

कद्दू के फूल का सेवन करने के फायदे

Health Benefits of Pumpkin Flower

कद्दू के फूल भी उसकी सब्जी की तरह सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं। कद्दू के फूलों देखने में जितने ही सुंदर दिखते हैं सेहत के लिए उतना ही फायदेमंद भी होते हैं। कद्दू के फूलों में कैल्शियम और फॉस्फोरस के साथ ही विटामिन और मिनरल्स पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं। कद्दू की सब्जी की तरह ही कद्दू के फूलों का सेवन कई बीमारियों से लड़ने में हमारे शरीर की मदद भी करता है। आइए जानते हैं कद्दू के फूलों के सेवन से सेहत को होने वाले फायदों के बारे में।

1. फंगल इन्फेक्शन में काफी फायदेमंद 

कद्दू के फूलों का सेवन करने से शरीर में बैक्टीरिया और फंगल इन्फेक्शन की समस्या में फायदा होता है। बारिश के मौसम में अक्सर बैक्टीरिया और इन्फेक्शन का खतरा रहता है ऐसे में इस मौसम में कद्दू के फूलों का सेवन करना बेहद फायदेमंद होता है। इसके आलावा इस फूल का सेवन करने से कई तरह की संक्रमणजनित समस्याओं में भी फायदा मिलता है।

2. कोल्ड और कफ की समस्या में कद्दू के फूल का सेवन

कोल्ड और कफ की समस्या में भी कद्दू के फूलों का सेवन बेहद उपयोगी माना जाता है। कद्दू के फूल का सेवन हमारे शरीर की इम्यूनिटी को ठीक करने का काम करता है, इससे शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है। कद्दू के फूलों में प्रचुर मात्रा में विटामिन सी मौजूद होता है जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करती है। कोल्ड और कफ की समस्या से बचने के लिए आप कद्दू के फूल को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें।

3. पाचन को बेहतर बनाने में फायदेमंद

कद्दू के फूलों का सेवन शरीर के पाचन तंत्र को फायदा पहुंचाता है। इसके सेवन से हमारे शरीर का पाचन तंत्र बेहतर होता है। चूंकि कद्दू के फूलों में पर्याप्त मात्रा में फाइबर पाया जाता है इसलिए इसका सेवन पाचन तंत्र के लिए महत्वपूर्ण होता है। कद्दू के सेवन से पेट में भारीपन, अपच और कब्ज जैसी समस्या भी दूर हो सकती है। यही वजह है कि इसका सेवन भारत में प्राचीन काल से ही किया जा रहा है।

4. आंखों के लिए बेहद फायदेमंद कद्दू का फूल

कद्दू के फूल का सेवन आंखों की सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। कद्दू के फूल में विटामिन ए की पर्याप्त मात्रा होती है जो आंखों की रोशनी बेहतर करने के लिए बेहद उपयोगी मानी जाती है। अगर आप नियमित रूप से कद्दू के फूलों का सेवन करते हैं तो इससे आंखें और उनकी रोशनी तेज और स्वस्थ रहती हैं। इसके अलावा कद्दू के फूलों का सेवन करने से ड्राई आंखों की समस्या में भी फायदा मिलता है। आंखों में नमी बरकरार रखने के लिए इसका सेवन बेहद उपयोगी होता है। नियमित रूप से कद्दू के फूलों का सेवन रतौंधी (रात में कम दिखने की समस्या) में भी फायदेमंद होता है।

5. हड्डियों के लिए फायदेमंद है कद्दू का फूल

कद्दू के फूल का सेवन हड्डियों के लिए भी बेहद फायदेमंद होता है। कद्दू के फूल में कैल्शियम और फॉस्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, जिसका सेवन हड्डियों के लिए जरूरी होता है। कद्दू के फूलों में पाया जाने वाला फॉस्फोरस दांतों और हड्डियों के रखरखाव के लिए बेहद जरूरी माना जाता है। इसके अलावा कद्दू के फूलों में मौजूद कैल्शियम हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाने का काम करता है। इसका नियमित सेवन दांतों और मसूढ़ों के लिए भी फायदेमंद होता है। कद्दू के बीज की तरह ही इसके फूलों का सेवन भी दांतों और मसूढ़ों के इनेमल के स्वास्थ्य को फायदा देता है। जानकारों के मुताबिक इसका सेवन करने से ऑस्टियोपोरोसिस की बीमारी में भी फायदा मिलता है।

कद्दू के फूलों को डाइट में कैसे करें शामिल?

How to Include Pumpkin Flower in Your Diet?

कद्दू के फूलों को आप कई तरीके से अपने डाइट में शामिल कर सकते हैं। भारत में कद्दू के फूलों की पकौड़ी का इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है। कद्दू के फूलों में मौजूद पोषक तत्वों का पूरा फायदा लेने के लिए आप इसे इन तरीकों से अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

1. कद्दू के फूलों की पकौड़ी बनाक्र आप इसका सेवन कर सकते हैं। इसके लिए आप सबसे पहले कद्दू के कुछ फूलों को लेकर अच्छी तरह से साफ कर लें। उसके बाद इसमें पकौड़ी बनाने के लिए बेसन का घोल लगाकर हल्की आंच में तल लें। इसे और अधिक स्वादिष्ट बनाने के लिए आप अपने हिसाब से इसमें मसालों का प्रयोग कर सकते हैं।

2. दक्षिणी भारत की कई जगहों पर इसका लोकप्रिय व्यंजन मथापू थोरन के नाम से जाना जाता है। इसे बनाने के लिए सरसों, लाल मिर्च, कसा हुआ नारियल, हल्दी पाउडर, करी पत्ता और जीरा आदि का इस्तेमाल किया जाता है। इसके लिए कद्दू के फूलों को लेकर इसमें ये सभी सामग्री मिलाने के बाद इसे तेल में तला जाता है।

3. कद्दू के फूलों को अपनी डाइट में शामिल करने के लिए आप इसका साग भी बना सकते हैं। पारंपरिक रूप से साग बनाने के तरीके से ही कद्दू के फूलों का साग भी तैयार किया जा सकता है।

4. बेक्ड स्टफ्ड कद्दू का फूल, इस व्यंजन को अमेरिका में सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है। इसे तैयार करने के लिए कद्दू के फूलों में अंडे का मिश्रण भरा जाता है और फिर इसे बंद करके ब्रेड क्रुम्ब्स के मिश्रण में डुबोया जाता है। और फिर इसे लगभग 10 मिनट के लिए बेक करने के बाद इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

Leave a Reply