अच्छी सेहत के लिए स्वस्थ और संतुलित खानपान होना बहुत जरूरी है। लेकिन इसके साथ ही कब और कितनी मात्रा में किन चीजों का सेवन फायदेमंद होता है ये भी जानना बहुत जरूरी है। सही समय पर उचित चीजों का सेवन शरीर को पर्याप्त पोषण देता है और कई समस्याओं से बचाता भी है। बात जब सेहत के लिए फायदेमंद चीजों की हो और मखाना का नाम न लिया जाये ऐसा नहीं हो सकता है। मखाना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। भारत में आमतौर पर लोग इसका सेवन उपवास के दौरान भी करते हैं। खाने के अलावा इसका इस्तेमाल पूजा-पाठ के दौरान हवन में भी किया जाता है। मखाना शरीर के लिए फायदेमंद तमाम पोषक तत्वों से भरपूर होता है और इसे कच्चा या पकाकर खाया जा सकता है। आयुर्वेद में इसका औषधि के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माने जाने वाले मखाने का सेवन अगर सही ढंग से नहीं किया तो आपको कई समस्याएं भी हो सकती है। कुछ हेल्थ कंडीशन में मखाने का सेवन नुकसानदायक होता है। आइये जानते हैं इनके बारे में।

मखाने में मौजूद पोषक तत्व (Nutritional Value of Makhana)

मखाना जिसे कमल का बीज के नाम से भी जाना जाता है सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसमें शरीर के लिए उपयोगी तमाम पोषक तत्व मौजूद होते हैं। मखाने में कैलोरी, कार्ब्स और प्रोटीन जैसे तमाम पोषक तत्व मौजूद होते हैं। आइये जानते हैं मखाने में मुख्य रूप से पाए जाने वाले पोषक तत्वों के बारे में।

कैलोरी
प्रोटीन
कार्बोहाइड्रेट
कैल्शियम
आयरन
फाइबर
मैंगनीज
पोटेशियम
मैग्नीशियम
थियामिन
फास्फोरस

इन समस्याओं में नहीं करना चाहिए मखाने का सेवन

Avoid Makhana or Foxnuts in These Health Conditions

स्वाद में अव्वल और सेहत के लिए फायदेमंद मखाने का सेवन कुछ समस्याओं में नहीं करना चाहिए। भले ही मखाने में मौजूद पोषक तत्व सेहत के लिए बहुत जरूरी और फायदेमंद माने जाते हैं लकिन इसके बावजूद कुछ समस्याओं में इनका सेवन आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। इन समस्याओं में मखाना खाने से आपको विपरीत प्रभावों का सामना करना पड़ सकता है।

1. किडनी स्टोन में मखाने का सेवन

किडनी स्टोन की समस्या में मखाने का सेवन न करने की सलाह दी जाती है। कई शोध और अध्ययन भी इस बात की पुष्टि करते हैं कि गुर्दे की पथरी यानी किडनी स्टोन की समस्या में मखाने का सेवन नहीं करना चाहिए। मखाने में कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है इसलिए जब आप किडनी स्टोन की समस्या में इनका सेवन करते हैं तो इसकी वजह से आपके किडनी में मौजूद स्टोन का साइज बढ़ सकता है या आपको किडनी से जुड़ी अन्य समस्याएं हो सकती है। यही कारण है कि किडनी स्टोन की समस्या में मखाने का सेवन न करने या अवॉयड करने की सलाह दी जाती है।

2. पेट की गैस में मखाने का सेवन

गैस्ट्रिक प्रॉब्लम यानी पेट में गैस की समस्या से जुड़ी स्थितियों में भी मखाने का सेवन नहीं करना चाहिए। मखाने में प्रोटीन और फाइबर अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं जो शरीर के लिए अच्छे होते हैं लेकिन इन्हें पचाने के लिए शरीर को अधिक मेहनत करनी पड़ती है। ऐसे में जब आप गैस्ट्रिक समस्याओं में इसका सेवन करते हैं तो आपकी दिक्कतें बढ़ सकती हैं। पेट की गैस के अलावा ब्लोटिंग की समस्या में भी मखाने का सेवन बिलकुल भी नही करना चाहिए। इन स्थितियों में मखाने का सेवन करने से आपको पाचन से जुड़ी अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं।

3. पोटैशियम का कम सेवन करने की स्थिति में

अगर आपको किडनी से जुड़ी किसी भी तरह की समस्या है तो चिकित्सक आपको पोटैशियम, कैल्शियम आदि का कम सेवन करने की सलाह देते हैं। किडनी फेलियर, किडनी इंफेक्शन और किडनी स्टोन जैसी समस्याओं में आपको खानपान से जुड़ी तमाम सावधानियों का पालन करना होता है। इन समस्याओं में मखाने का सेवन बिलकुल भी न करना आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि मखाने में पोटैशियम की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है जो इन स्थितियों में आपके लिए हानिकारक हो सकती है। किडनी के लिए पोटैशियम बहुत ही नुकसानदायक माना जाता है।

4. दस्त या डायरिया की समस्या में

मखाना फाइबर का समृद्ध भंडार होता है और दस्त या डायरिया में मखाने का सेवन फायदेमंद नहीं माना जाता है। कब्ज आदि की समस्या में बाउल मूवमेंट को बेहतर बनाने के लिए तो मखाने का सेवन बहुत फायदेमंद होता है लेकिन दस्त और डायरिया की समस्या में फाइबर रिच फूड्स का सेवन नहीं करना चाहिए। जैसा कि आप जानते हैं मखाने में फाइबर पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है इसलिए दस्त और डायरिया में मखाने का सेवन नहीं करना चाहिए।

इसके अलावा मखाने का सेवन कभी भी अत्यधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए। इसका अधिक मात्रा में सेवन आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। मखाने का अधिक सेवन करने से आपको एलर्जी, इंसुलिन का असंतुलन और जठरांत्र से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। कई लोगों को मखाने के सेवन से एलर्जी होती है इसलिए ऐसे लोगों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए। आप इसके लिए चिकित्सक से भी सलाह ले सकते हैं। वहीं डायबिटीज की समस्या में भी मखाने का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। क्योंकि मखाना का सेवन ब्लड शुगर को कम करने के लिए भी किया जाता है। हमें उम्मीद हैं कि मखाने के सेवन को लेकर दी गयी यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आप ऊपर बताई गयी समस्याओं से जूझ रहे हैं तो मखाने का सेवन बिलकुल भी न करें। इन समस्याओं के दौरान मखाने का सेवन बहुत नुकसानदायक हो सकता है। इसके अलावा आप मखाने का सेवन रोजाना कर सकते हैं।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleनींबू के साथ भूलकर भी न करें इन चीजों का सेवन
Next articleरोजाना बिना चीनी की चाय पीने से मिलते हैं ये 5 फायदे, सिर्फ शुगर मरीज नहीं सबके लिए है फायदेमंद

Leave a Reply