लीवर साफ करने के तरीके liver saaf karne ke tarike in hindi

हमारे शरीर में लिवर का काम शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सबसे जरूरी माना जाता है। लिवर (Liver) शरीर का दूसर सबसे बड़ा अंग होता है और इसका काम शरीर में सभी खाद्य पदार्थों से फायदेमंद पोषक तत्वों को अवशोषित करना भी होता है। लिवर शरीर में फैट, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट जैसे सभी पोषक तत्वों का प्रबंधन करता है। स्वस्थ शरीर के लिए लिवर का स्वस्थ रहना सबसे महत्वपूर्ण होता है। लिवर का स्वास्थ्य ठीक न होने की वजह से शरीर में लिवर से जुड़ी बीमारी और मेटाबॉलिक डिसऑर्डर हो सकता है। लिवर ही शरीर का वह अंग है जो मुख्यता से शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को अवशोषित कर उन्हें बहार निकालने का काम करता है। लिवर प्रतिरक्षा प्रणाली, पाचन तंत्र और विषहरण प्रणाली को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आज के दौर में अंसतुलित खानपान और कई अन्य कारणों की वजह से लिवर से जुड़ी समस्याएं अक्सर लोगों में देखी जाती है। लिवर में होने वाली सबसे प्रमुख समस्या फैटी लिवर (Fatty Liver Problem) की होती है। इस समस्या से बचने के लिए आपको अपने खानपान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है। लिवर के लिए फायदेमंद पदार्थों का सेवन करने से इस बीमारी से बचने में फायदा मिलता है। आइए जानते हैं फैटी लिवर की समस्या में फायदेमंद 5 जूस (Detox Juices to Relieve Fatty Liver Problem) के बारे में जिनका सेवन लिवर के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है।

फैटी लिवर की समस्या (Fatty Liver Problem)

फैटी लिवर की समस्या को हेपेटिक स्टीटोसिस भी कहा जाता है। यह स्थिति लिवर में अतिरिक्त फैट जमा होने की वजह से होती है। लिवर में कम मात्रा में फैट होना सामान्य माना जाता है लेकिन जब आपके लिवर में फैट की मात्रा अधिक हो जाती है तो इसकी वजह से कई दिक्कतें शुरू हो सकती हैं। चूंकि लिवर शरीर का सबसे महत्वपूर्ण और दूसर सबसे बड़ा अंग होता है और यह भोजन और पेय पदार्थों से पोषक तत्वों को संसाधित करने का काम करता है। इसलिए इसका स्वस्थ रहना बेहद जरूरी होता है। लिवर में अधिक मात्रा में फैट जमा होने के कारण लिवर में सूजन की समस्या उत्पन्न हो जाती है और इसके अधिक होने पर लिवर फेलियर का भी खतरा रहता है।

फैटी लिवर के कारण

Causes of Fatty Liver Problem

फैटी लिवर की समस्या तब होती है जन हमारे शरीर में फैट की मात्रा बढ़ती है और शरीर फैट को सही तरीके से अवशोषित नहीं कर पाता है। इस स्थिति में अतिरिक्त फैट लिवर की कोशिकाओं में जमा हो जाता है और इसकी वजह से फैटी लिवर की समस्या शुरू होती है। इसके पीछे खानपान और शारीरिक स्थिति के कई कारण हो सकते हैं। फैटी लिवर की समस्या के प्रमुख कारण इस प्रकार से हैं।

मोटापा
शराब का अधिक सेवन
ब्लड शुगर की अधिकता
इंसुलिन प्रतिरोध
ट्राइग्लिसराइड्स
गर्भावस्था
तेजी से वजन घटाना
हेपेटाइटिस सी
दवाओं से होने वाले दुष्प्रभाव
विषाक्त पदार्थों का सेवन

फैटी लिवर की समस्या में फायदेमंद 5 जूस

5 Detox Juices to Relieve Fatty Liver Problem

फैटी लिवर की समस्या होने पर व्यक्ति कई दूसरी समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है। लिवर में अधिक मात्रा में फैट जमा होने की वजह से इसमें सूजन शुरू हो जाती है और इसकी वजह से लिवर सही तरीके से काम नही कर पाता है। इस समस्या में लिवर को फायदा पहुंचाने वाले इन 5 तरह के जूस का सेवन करना चाहिए।

1. चुकंदर का जूस (Beetroot Juice)

चुकंदर का जूस लिवर के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इसमें शरीर और लिवर के लिए फायदेमंद पोटेशियम, विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट की भरपूर मात्रा होती है। चुकंदर में खून को साफ करने वाले यौगिक भी मौजूद होते हैं। इतना ही नहीं, यह शरीर को लिवर कैंसर और अन्य पुरानी बीमारियों से बचाने के लिए भी फायदेमंद होता है। इस जूस का और अधिक लाभ पाने के लिए आप इसमें चुकंदर के साथ कुछ अन्य सब्जियां व फल भी मिला सकते हैं। इस लिवर डिटॉक्स ड्रिंक के नियमित सेवन से लिवर मजबूत और स्वस्थ होता है।

आवश्यक सामग्री

1 चुकंदर (कटा हुआ)
2 बड़े चम्मच नींबू का रस
1 गिलास पानी

बनाने का तरीका

एक ब्लेंडर में चुकंदर, नींबू का रस और पानी डालें।
कुछ देर के लिए इसे अच्छी तरह से ब्लेंड करें।
अच्छी तरह से ब्लेंड हो जाने के बाद इसे गिलास में छान लें।

पीने का तरीका

इस जूस का सेवन सुबह खालीपेट 7 दिनों के लिए करें, इससे लिवर की समस्या में फायदा मिलेगा।

2. तरबूज का जूस (Watermelon Juice)

तरबूज के जूस का नियमित रूप से सेवन सिर्फ लिवर ही नहीं पूरे शरीर के लिए फायदेमंद माना जाता है। इस जूस में कैलोरी की मात्रा बिल्कुल कम होती है और इसका सेवन शरीर को हाइड्रेट आयर तरोताजा रखने के लिए किया जाता है। तरबूज के जूस का सेवन फ्री रेडिकल डैमेज और लिवर की बीमारियों में फायदेमंद होता है।

आवश्यक सामग्री

2 कप तरबूज (मोटे तौर पर कटा हुआ)
1 लीटर पानी
2 टहनी मेंहदी

मेंहदी की टहनी को छोड़कर सभी सामग्री को ब्लेंडर में डालें।
मिश्रण को अच्छी तरह मिला लें।
अब इसके बाद मेंहदी की टहनी डालें।
जूस तैयार करने के बाद इसे 20 मिनट तक फ्रिज में ठंडा करें।

पीने का तरीका

3 दिनों के लिए हर दिन 4 से 6 घंटे बाद इसका सेवन करें।

3. संतरे का जूस (Orange Juice)

क्या आप जानते हैं कि संतरे का रस लिवर को डिटॉक्सीफाई करने में मदद करता है और लिवर की पुरानी बीमारी को दूर करता है? संतरे में पोटेशियम और विटामिन सी की प्रचुर मात्रा होती है जो आपके लिवर की कोशिकाओं को विषाक्त पदार्थों के नुकसान से बचाती है। संतरे के इस इस डिटॉक्स ड्रिंक के नियमित सेवन से शरीर को तमाम फायदे मिलते हैं।

आवश्यक सामग्री

1 कप संतरे का रस निचोड़ा हुआ
कद्दूकस किया हुआ 1 छोटा चम्मच अदरक
2 गिलास पानी

बनाने का तरीका

2 गिलास पानी में संतरे का रस और अदरक डालें।
अब इसे अच्छी तरह से मिला लें।
लगभग 15 से 20 मिनट तक इसे रख दें।
उसके बाद इसका सेवन करें।

पीने का तरीका

इस जूस का सेवन रोजाना सुबह खालीपेट 3 दिन तक करने से लिवर की समस्याओं में फायदा मिलता है।

4. नींबू का जूस (Lemon Juice)

शरीर से विषाक्त पदार्थों को दूर करने के लिए नींबू का सेवन बेहद फायदेमंद माना जाता है। नींबू में चीनी की मात्रा कम और शरीर को शुद्ध करने वाले पदार्थ अधिक होते हैं, इसलिए नींबू जूस का सेवन आपके लिवर को स्वस्थ रखने के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। आप नींबू के रस में हल्दी भी मिला सकते हैं ताकि इसके सूजन-रोधी लाभ मिल सकें और लिवर को डिटॉक्स कर सकें।

आवश्यक सामग्री

2 छिले हुए नींबू
1 चम्मच शहद
आधा चम्मच हल्दी

बनाने का तरीका

छिलके वाले नींबू को जूसर में डालें।
अब इस जूस को गिलास में डालें और इसमें शहद और हल्दी डालें।
इसे फ्रिज में ठंडा करके या बर्फ के साथ मिलकर पियें।

पीने का तरीका

इस जूस का सेवन रोजाना सुबह लगातार 5 दिन तक करें, लिवर की समस्या में यह बहुत फायदेमंद होता है।

5. गाजर का जूस (Carrot Juice)

आसानी से उपलब्ध होने वाली सब्जी, गाजर जो आपके लिवर को साफ और स्वस्थ रखने में बेहद फायदेमंद मानी जाती है। गाजर शरीर के लिए बेहद फायदेमंद सब्जी में से एक है। इसका सेवन कई तरीके से किया जा सकता है। गाजर में रेटिनोइक एसिड होता है जो लिवर के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है।

आवश्यक सामग्री

5 से 6 साफ और स्वस्थ गाजर
1 नींबू
2 स्लाइस अदरक

बनाने का तरीका

सबसे पहले गाजर और अदरक को छीलकर साफ कर लें।
फिर इन्हें एक साथ मिलाकर ब्लेंड करके इसका जूस तैयार करें।
अब इसमें नींबू का रस मिलाएं।

पीने का तरीका

गाजर के रस का कम से कम 7 दिनों के लिए रोजाना सुबह सेवन करना लिवर के लिए फायदेमंद होता है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleस्टेमिना बढ़ाने के लिए रोज पिएं कलौंजी वाला दूध, जानें बनाने का तरीका और 5 फायदे
Next articleक्या रात के समय खानी चाहिए दाल? जानिए क्या कहता है आयुर्वेद

Leave a Reply