urine infection ke lakshan karan aur ilaj

पेशाब में दिक्कत या यूरीन इन्फेक्शन | यूरिन प्रॉब्लम का इलाज | यूरिन इन्फेक्शन के लक्षण कारण और इलाज

यूरिन इन्फेक्शन क्या है ?

पेशाब में दिक्कत आना या यूरीन इन्फेक्शन (UTI) होना एक आम समस्या होती जा रही है ज़्यादातर पुरुष , महिलाओं या जवान लड़कियों में 100 में से अस्सी प्रतिशत लोग कभी न कभी मूत्र रोगों से परेशान रहे होते हैं. क्रैनबेरी फल पेशाब के रस्ते में होने वाले संक्रमण का एक बेहतर प्राकृतिक उपाय है लेकिन ये इलाज सबसे प्रभावी होने के साथ साथ थोड़ा महंगा भी होता है क्योंकि क्रैनबेरी का फल आसानी से हर जगह उपलब्ध नहीं है और ये थोड़ा महंगा भी होता है लेकिन यहाँ हम आज आपको जो उपाय बता रहे हैं वो बहुत किफायती, सस्ता और बड़ी ही आसानी से मिलने वाली चीज है और आप पेशाब सम्बन्धी समस्या से इस सस्ती चीज़ से राहत पा सकते हैं इसीलिए यूरीन इन्फेक्शन के लक्षण कारण और इलाज के बारे में जानना बहुत ही आवश्यक है तभी आप इससे परमानेंट छुटकारा पा सकते हैं।

आइये जानें urine infection ka desi ilaj in hindi, urine me jalan ka ilaj, urine infection ka desi ilaj in urdu, peshab me infection ka ilaj, urine problem home remedy in hindi, urine infection tips in hindi।
   टूटी हड्डी जल्दी जोड़ने के लिए रामबाण दवा और 5 आसान घरेलू उपाय

यूरीन इन्फेक्शन के लक्षण  – Urine Infection Ke Lakshan In Hindi

मूत्र मार्ग संक्रमण यानी के यूरीन इन्फेक्शन दोस्तों इसके लक्षण आम और आसानी से पहचाने योग्य होते हैं।

•   यूरीन इन्फेक्शन में पेशाब के दौरान बार-बार आपको दर्द होता है |

•   पेशाब के दौरान जलन होना|

•   बुखार होना, मतली (जी मचलना)|

•   लोअर बैक में दर्द  होना |

•   पेशाब बार बार जाना पड़ता है मगर पेशाब कम आता है|

•   कमर के नीचले हिस्से में दबाव और दर्द महसूस होता है तो यह बाथरूम प्राब्लम का संकेत है।

•   पेशाब धुँधला हो, खून हो या बदबूदार हो तो संक्रमण होने की संभावना है।

•   थकान महसूस हो ज़्यादा और फिर बुखार ठंड के साथ आए तो संक्रमण गुर्दे तक पहुँच गया है।

यूरिन इन्फेक्शन सिंप्टम्स इन फीमेल्स इन हिन्दी उपर बताए लक्षण जैसे है और उनको पेट के नीचे के भाग में खास दर्द रहता है।

■   गुस्सा कम करने और मन शांत करने के 10 आसान उपाय

यूरीन इन्फेक्शन क्यों होता है इसका कारण और इससे कैसे बचा जा सकता है

Urine Infection Ka Karan In Hindi | Urine Problem Reason In Hindi

मूत्र जननांग क्षेत्र में (Urogenital Region) यहाँ बैक्टीरिया के विकास होने पर मूत्र मार्ग में संक्रमण (यूरीन इन्फेक्शन) होता है. यूरीन इन्फेक्शन का होना आजकल एक आम समस्या बन गयी है किन्तु यह ज्यादातर निम्न कारणों की वजह से होता है –

•  तेज़ मिर्च मसालों का सेवन

•  अधिक शराब पीने से

•  दूषित पानी पीने से

•  ज़रुरत से ज़्यादा वक़्त पेशाब रोकने से

•  एक कारण यह भी हो सकता है के आप बहुत लम्बे समय से बीमार चल रहे हों

महिलाओं को ज़्यादा सावधानी बरतना चाहिए – Urine Infection In Women In Hindi

महिलाओं और किशोरियों को विशेषकर गर्मी और बरसात के मौसम में खासतौर से कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। पेशाब लगने पर यानी के जिस समय पेशाब आये उसी समय करलें तो ज़्यादा अच्छा होता है ज़्यादा देर तक पेशाब को रोकने की कोशिश नहीं करना चाहिए क्योंकि पेशाब में बैक्टीरिया होते हैं और जब हम पेशाब को रोकते हैं तब ये ऊपर की तरफ बढ़ते हैं और ये बैक्टीरिया मूत्राशय में संक्रमण का कारण बन सकते है।

■   जल्दी पतला होने और पेट अंदर करने की पतंजलि आयुर्वेदिक दवा

यूरीन इन्फेक्शन से बचने के उपाय – Urine Infection Se Bachne Ke Upay In Hindi

इससे बचने के लिए एक बहुत ही सरल उपाय है. इन्फेक्शन का दर तब होता है जब हमारे शरीर में यूरिन बहुत ज़्यादा समय तक रुक रहे या अधिक बैक्टीरिया बढ़ जाते हैं तो भी दर वाली बात है अगर किसी को यूरीन इन्फेक्शन हो भी जाये तो इस तरह के संक्रमण के दौरान अधिक मात्र में पानी पिएं, जूस या सूप का सेवन करें क्योंकि इससे मूत्र प्रवाह बढ़ता है और किसी भी संक्रमण के होने की संभावना बहुत कम हो जाती है।

यूरीन इन्फेक्शन से बचने के लिए कुछ घरेलु उपचार

Urine Infection Ka Gharelu Upchar Aur Desi Nuskhe In Hindi

Urine Infection Ka Ayurvedic Upchar In Hindi

•   खूब विटामिन सी युक्‍त जूस पी सकते हैं जैसे, अनानास, सिट्रस फ्रूट वाले फल भी जैसे के नींबू, मोसम्बी, संतरा और अनार आदि।

•   ढेर सारा पानी पियें जिससे बैक्‍टीरिया का नाश हो सके।

•   आप जौ का पानी पी सकते हैं, नारियल पानी पीना भी एक अच्छा उपाय है लेकिन ध्यान रहे के जौ का पानी आपके पेट में एसिड की मात्रा घटा देता है जिससे आपकी पेट को शांति मिलती है ध्यान रखिये सिर्फ आपके पेट की शांति की बात हो रही है नहीं तो आप कुछ और समझ लें।

•   हर रोज खाली पेट 2 लहसुन की कली चबाले या तो 5 लहसुन की कली को मक्खन के साथ कूट के खाए।

•   किरयता, आमला और हल्दी चूर्ण को पानी के साथ दिन मे दो बार सेवन करे।

•   गोखरू चूर्ण, गोरखबूटी या कपूर कचली, अनंतमूल और अपमार्ग चूर्ण को संभाग में मिला के पानी मिला के दिन में दो बार पीए।

•   लहसुन और प्याज का सेवन बहुत लाभकारी है और साथ में सहजन भी फायदा देता है।

•   खाने में लौंग और विटामिन C ज़्यादा हो ऐसे फल और सब्जी का सेवन करे।

•   सीज़न में मूली अवश्य खाए।

•   यूरीन इन्फेक्शन के समय चाय, कॉफी, और चॉकलेट को हाथ भी न लगाएं।

•   दालचीनी, और बूचा चाय की पत्तियां, हपूशाा आदि अच्‍छे घरेलू उपचार हैं।

•   ऐसे में आप मही यानी के मठ्ठा भी पी लें तो ये सबसे अच्छा समाधान हैं।

•   पंसारी के यहाँ से इचीनेशिया नामक जड़ी बूटी लेकर इसकी चाय पीने से भी यह इन्फेक्शन पूरी तरह से सही हो जाता है।

■   अच्छी और गहरी नींद आने के 5 आसान उपाय घरेलू नुस्खे

दोस्तों urine infection ke lakshan, urine infection medicine in hindi का ये लेख कैसा लगा हमें जरूर बताएं और अगर आपके पास यूरिन इन्फेक्शन (यूटीआई, मूत्र मार्ग संक्रमण) का इलाज, यूरिन इन्फेक्शन के लक्षण क्या हैं और इसे कैसे दूर करें, यूरिन इन्फेक्शन का घरेलू इलाज, Urine infection treatment in hindi, Urine infection ka ilaj के सुझाव है तो हमारे साथ शेयर करें।

Loading...

Leave a Reply