टूथपेस्ट पर कलर मार्क का क्या मतलब होता है इन हिंदी

सभी लोग अपने दांत साफ करने के लिए टूथपेस्ट का इस्तेमाल करते हैं. बाजार में एक से एक बढ़कर टूथपेस्ट मिलते है।ज्यादातर टूथपेस्ट सफेद कलर के होते हैं परंतु अब रंग बिरंगे कलर के भी टूथपेस्ट मिलने लगे हैं . आप सिर्फ टूथपेस्ट को खरीद तो लेते हैं लेकिन आप इसके नीचे वाले हिस्से में जो कलरफुल लाइन होती है उसके बारें में नही जानते होगे।तो आइये जानते है इसके हैरान कर देने वाला राज.

आइये जानें टूथपेस्ट में नीचे कलर मार्क का मतलब, टूथपेस्ट में काली लाल पट्टी का मतलब क्या है, टूथपेस्ट प्राकृतिक, प्राकृतिक मंजन, कैसे पहचाने टूथपेस्ट प्राकृतिक है, टूथपेस्ट नेचुरल कैसे पहचानें।

काली पट्टी

आपको बता दे कि बाजार में टूथपेस्ट के नीचे काले, लाल, नीले और हरे की लाइन आपके लिए खतरनाक साबित हो सकती है. कहा जाता है कि जिस टूथपेस्ट पर काले रंग की लाइऩ होती है वह केमिकल से भरपूर होता है। जो बहुत ही हानिकारक है।

👉 इसे भी पढ़ें : सिर्फ एक आदत अपनाने से जिंदगी भर नहीं होगा हार्ट अटैक न बढेगा बी पी और न होगा बैड कोलेस्ट्रॉल..!!

लाल पट्टी

अगर आपके टूथपेस्ट के नीचे लाल पट्टी बनी हुई है तो यह काले वाली पट्टी से काफी अच्छी है. क्योकि इसको बनाने के लिए प्राकृतिक चीजों के साथ-साथ कैमिकल्स का भी उपयोग हुआ है।

नीला पट्टी

यदि टूथपेस्ट में नीचे नीले रंग की पट्टी है तो समझिये कि इसमे प्राकृतिक तत्वों के अलावा इसमें मेडिकेशन भी शामिल है. तो यह भी काफी तक बेहतर है।

हरा पट्टी

अगर आपके टूथपेस्ट के नीचे हरी पट्टी बनी हुई है इतका मतलब है कि इसमे प्राकृतिक तत्वों का ही इस्तेमाल किया गया है. जो कि सभी टूथपेस्ट से अच्छा है और आपकी सेहत के लिए भी।

👉 इसे भी पढ़ें : ये उपाय मोमबत्ती की तरह पिघला देगा आपके पेट और कमर की चर्बी को, सबसे अच्छा प्राकृतिक घरेलू उपाय
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleसुबह पेट साफ करने और कब्ज़ को जड़ से ख़त्म करने के सबसे असरदार उपाय Constipation Home Remedies
Next articleजरुर आजमाएं आंखों की रोशनी बढ़ाने के ये 10 TIPS. उतर सकता है चश्मा
Loading...

Leave a Reply