watermelon तरबूज और खरबूज खाने के बाद पानी

गर्मियों के मौसम का अगर हम किसी एक वजह से इंतजार करते हैं, तो वह है तरबूज… जी हां, खाने के शौकीन और गर्मियों में ठंडे ठंडे तरबूज का लुत्फ उठाने वाले तरबूज के असली मजे के लिए ही तो करते है गर्मियों का इंतजार. लेकिन क्या आप जानते हैं कि तरबूज आपको सिर्फ स्वाद ही नहीं सेहत भी देता है. ज्यादातर सीजन फल सेहत का खजाना होते हैं. ठीक इसी तरह तरबूज भी आपकी सेहत में देता है सकारात्मक सहयोग. आइए जानते हैं तरबूज खाने के फायदों के बारे में-

स्टोन है तो जरूर खाएं तरबूज 

जिन लोगों को किडनी में स्टोन है या स्टोन होने की प्रॉब्लम हो उन्हें तरबूज खूब खाना चाहिए। क्योंकि तरबूज में पानी की अधिकता होती है और ये किडनी को डिटॉक्स करने में भी मदद करता है। इसलिए इसे खाना फायदेमंद होगा।

वेट लॉस डाइट में करें शामिल

वेट लॉस डाइट में तरबूज को जरूर शामिल करना चाहिए। तरबूज में बहुत कम कैलोरी होती है लेकिन ये बहुत लंबे समय तक पेट को भरा फील करता है। 100 ग्राम तरबूज में केवल 30 ग्राम कैलोरी होती है। इसमें करीब 1 मिलीग्राम सोडियम, कार्बोहाइड्रेट 8 ग्राम, फ़ाइबर 0.4 ग्राम, शुगर,6 ग्राम, विटामिन ए 11 प्रतिशत, विटामिन सी 13 प्रतिशत, प्रोटीन 0.6 ग्राम पाया जाता है।

इम्यून मजबूत करता है और आंखों के लिए भी है फायदेमंद 

विटामिन सी और ए से भरा तरबजू इम्युन सिस्टम को मजबूत बनाता है और आंखों के लिए भी बहुत अच्छा होता है।

दिमाग भी रखता है ठंडा 

तरबूज की तासीर ठंडी मानी जाती है और इसे खाने से पटे ही नहीं दिमाग भी शांत रहता है। इसके बीज को पीस कर माथे पर लगाने से सिरदर्द भी सही करता है।

हाई बीपी वालों के लिए 

हाई बीपी की जिनको समस्या हो उन्हें तरबूज जरूर खाना चाहिए। तरबूज में बहुत कम मात्रा में सोडियम होता है और ये ठंडा भी होता है।

इन लोगों को नहीं खाना चाहिए तरबूज

■  तरबूज उन लोगों को बिलकुल नहीं खाना चाहिए जिन्हें अस्थमा या एलर्जी की दिक्कत हो। क्योंकि इसकी तासीर ठंडी होती है और ये सांस की नली में सूजन पैदा कर सकता है। साथ ही इससे छींक की समस्या भी बढ़ सकती है।

■  अगर आप चावल या दही खा रहे हैं तो आपको तरबूज से दूर रहना चाहिए। क्योंकि इसके बाद तरबूज खाना फायदे की जगह नुकसान कर देगा।

■  अगर आपका पेट खाली है या सुबह उठकर आप तरबूज खाने की सोच रहे तो आदत बदल लें। खाली पेट तरबूज उल्टी या पेट की अन्य तकलीफों का कारण बन सकता है।

■  तरबूज खाने के बाद कभी भी तुरंत पानी न पीएं। तुरंत पानी पीने से उल्टी हो सकती है। अगर मुंह में मीठापन बना हो तो आप केवल कुल्ला करें।

■  रात के समय तरबूज नहीं खान चाहिए, क्योंकि ये कफ बढ़ा सकती है और इससे परेशानी बढ़ सकती है।

■  तरबूज खाना सेहतमंद होता है लेकिन अपनी परेशानी को देखते हुए उसे खाने का निर्णय लें, क्योंकि कुछ स्थितियों में तरबूज फायदेमंद नहीं होता।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleइस VITAMIN की कमी से JOINT PAIN | सूजन swelling | कमजोरी हाथ पैर दर्द होता है vitamin A,B12
Next articleसोते समय चलते समय पैरों में दर्द | नसों की कमजोरी | नसों के दबने का अचूक इलाज Legs Pain foot pain

Leave a Reply