sookha nariyal

नारियल एक बहुत ही उपयोगी फल माना गया है। यह जितनी ऊँचाई पर लगता है , उतने ही अधिक इसके गुण भी है। नारियल का उपयोग फल के रूप में, तेल के रूप में, नारियल दूध में और कई प्रकर के व्यंजन बनाने में भी किया जाता है। साथ ही साथ पूजन आदि कार्य में भी हम नारियल का उपयोग करते है। उसी तरह से गीलें नारियल का पानी पीना भी हमारी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद बताया गया है। नारियल पानी पीने से इम्यून सिस्टम बेहतर बनता है। साथ ही इसमें मौजूद cytokinins बढ़ती उम्र के लक्षणों को आने से रोकते है। नारियल खाने से याद्दाश्त बढ़ती है। नारियल की गिरी में बादाम, अखरोट एवं मिश्री मिलाकर हर रोज खाने से स्मृति में बढ़ती है। इन भरपूर गुणों के अलावा सूखा नारियल खाने के भी हमारी सेहत को कई तरह के फायदें होते है। जो शरीर में पोषक तत्वों की कमी को पूरा करते है।

तो चलिए जानते है सूखा नारियल खाने के शरीर को होने वाले इन फायदों के बारें में.

1.सूखे नारियल के सेवन से शरीर ताकतवर बनता है। दुबलापन दूर करने के लिए आधा लीटर दूध में 15-20 मखाने, 5-6 काजू, 5-6 बादाम, 20 ग्राम सूखा नारियल और 3-4 छुहारों को उबालकर पी लें। ऐसा लगातार एक सप्ताह तक करने से असरद दिखने लगेगा।

2.सूखे नारियल में कॉपर होता है, जो दिमाग को तेज करने और याददाश्त को मजबूत बनाने का काम करता है। ये ऐसे एंजाइम्स पैदा करता है, जो न्यूरोट्रांसमीटर को बढ़ावा देते हैं।

3.सूखा नारियल आयरन का अच्छा स्त्रोत होता है। इसके नियमित सेवन से खून की कमी और एनीमिया रोग से बचाव होता है। इससे कमजोरी भी दूर होती है।

4.सूखे नारियल में डाइट्री फैट भरपूर मात्रा में होता है। ये दिल को दुरुस्त रखने में मदद करता है। इससे हृदय रोगों का खतरा कम होता है। पुरुषों को रोजाना 38 ग्राम डाइट्री फाइबर लेना चाहिए। जबकि महिलाओं को रोजाना 25 ग्राम डाइट्री फाइबर की जरूरत होती है।

5.सूखे नारियल में सेलेनियम होता है। इसलिए इसे खाने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। यह प्रतिरक्षा तंत्र को भी मजबूत करता है।

6.सूखे नारियल में कॉलेस्‍ट्रॉल, फाइबर, मैग्नीशियम, कॉपर और सेलेनियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसलिए रोजाना इसे खाने से शारीरिक थकान और कमजोरी दूर होती है।

7.बढ़ती उम्र में अल्जाइमर की समस्या हो जाती है। जिससे व्यक्ति की याददाश्त कमजोर हो जाती है। इस समस्या से बचने के लिए भी सूखे नारियल का सेवन करना अच्छा होता है।

8.सूखे नारियल में ब्रेस्ट कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर के सेल्स को बनने से रोकने की क्षमता होती है। इसलिए अपने डाइट में नारियल को जरूर शामिल करें।

9.सूखा नारियल पाचन तंत्र को मजबूत करने का काम करता है। साथ ही ये पेट के घावों को भरने में भी मदद करता है। तभी बवासीर की दिक्कत में लाभ होता है।

10.सूखे नारियल को खाने से थॉयराइड ग्रंथि भी ठीक रहती है। इससे मोटापा नहीं बढ़ पाता है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleJoint Pain चलने में दिक्कत | घुटनों की ग्रीस ख़त्म हो गई हो 3 चीजें खाना शुरू कर दो | 95% दर्द ख़त्म
Next articleबवासीर का इलाज | Bawaseer Ka Ilaj In Hindi

Leave a Reply