headache

सिरदर्द | Headache | माइग्रेन | Migraine

आज हर किसी के जीवन में हज़ारों परेशानियां और मुसीबतें हैं, जो कभी खत्म ही नहीं होती। और उन्ही परेशानियों के कारण होता है सिरदर्द। जब यह तनाव एक हद तक बढ़ जाता है तो एक भयानक दर्द बन कर उभरता है, जिसे हम माइग्रेन के नाम से जानते हैं।

माइग्रेन दिमाग के मौजूद कुछ रसायनों के असंतुलित होने के कारण होता है। यह बिमारी किसी भी उम्र के व्यक्ति को अपना शिकार बना लेती है। इसमें तेज़ दर्द के साथ, चक्कर, उल्टी की शिकायत होती है, जिससे व्यक्ति बेचैनी और थकान मेहसूस करता है।

सिरदर्द का इलाज

Sirdard ka ilaj

नाक के दो हिस्से हैं। दायाँ स्वर और बायां स्वर, जिनसे हम सांस लेते और छोड़ते हैं, पर यह बिल्कुल अलग – अलग असर डालते हैं और आप फर्क महसूस कर सकते हैं।

दाहिना नासिका छिद्र “सूर्य” की तरह गर्म और बायां नासिका छिद्र “चन्द्र” की तरह शीतल लक्षण को दर्शाता है अर्थात ये दोनों नासिका छिद्र क्रमशः सूर्य व चन्द्रमा का प्रतिनिधित्व करते हैं।

सिर दर्द के दौरान, दाहिने नासिका छिद्र को बंद करें और बाएं से सांस लें। और बस ! 5 मिनट में आपका सरदर्द “गायब” है ना आसान ?? और यकीन मानिए जितना वास्तविक रुप में इसे पढ़ रहै हैं बिल्कुल विश्वाश रखें उसी प्रकार यह उतना ही प्रभावकारी भी है। परिणाम सौ प्रतिशत सटीक मिलेगा।

माइग्रेन का इलाज

Migraine ka ilaj

हाथों का स्पर्श 

माइग्रेन के दर्द में दवाईयों से ज्यादा असरदार होता है हाथों को स्पर्श। तो जब भी दर्द उठे हल्के हाथों से मालिश करें अच्छा मेहसूस होगा।

ठंडे या गरम पानी से सेक करें 

दर्द को दूर भगाने के लिए एक तौलिया ले और गुनगुने पानी से गिला कर के दर्द वाली जगह पर सेक करें। हो सकता है आपको ठंडे पानी या बर्फ से भी आराम मिले।

•  दर्द के दौरान बटर या मख्खन में मिश्री मिला कर खाना भी लाभदायक साबित होगा।

•  माइग्रेन के दर्द में लाइट म्युज़िक सुनना भी काफी असरदार होता है।

•  आप कपूर को घी में मिलाकर भी मालिश कर सकते हैं, आराम मिलेगा।

•  नींबू के छिल्के को पीस कर लेप बना लें और माथे पर लगाए, दर्द काफी हद तक कम हो जाएगा।

•  माइग्रेन के दर्द के छुटकारा पाने के लिए आप अरोमा थेरेपी भी ले सकते हैं, जिसमें हर्बल तेलों का इस्तेमाल किया जाता है। साथ ही डॉक्टर से भी सलाह लेना बेहतर होगा।

•  बड़ी इलायची को पीसकर मस्तिष्क पर लेप करने से एवं बीजों को पीसकर सूंघने से सिर का दर्द ठीक हो जाता है।

•  कच्चे दूध में जायफल(jaiphal) घिसकर सिर में लगाएं। इससे बहुत आराम मिलेगा। सिर में दर्द होने पर जायफल को पानी में घिसकर माथे पर लेप की तरह लगाने से सिर का दर्द ठीक हो जाता है।

•  नींबू के पत्तों का रस निकालकर नाक से सूंघे, जिस व्यक्ति को हमेशा सिरदर्द बना रहता है, उसे भी इससे शीघ्र आराम मिलता है। यह प्रक्रिया लगातार कुछ दिनों तक करने से ऐसे परिणाम मिलेंगे की आप दाँतो तले उंगलियां दबा लेंगे। हमारे द्वारा किये कुछ पीड़ितों पर यह प्रयोग इतना कारगर निकला की उनकी सिरदर्द/माइग्रेन की समस्या का जड़ सफाया हो गया।

•  गाय का ताजा घी सुबह-शाम 2-4 बूँद नाक में रुई से टपकाने अथवा सूंघते रहने से आधे सिर की दर्द की पीड़ा जड़ से आराम हो जाती है। साथ ही इसे नक् से खून गिरना भी जड़मूल से नष्ट हो जाता है। 7 दिन तक लें।

•  सिर के जिस तरफ के भाग में दर्द हो उस तरफ के नथुने में 7-8 बूँद सरसों का तेल डालने अथवा सूंघने से दर्द एकदम  बन्द हो जाता है। 4-5 दिन तक दिन में 2-3 बार इसी प्रकार सूंघने से कई बार दर्द सदा के लिए मिट जाता है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleबालों का आयुर्वेदिक तेल
Next articleहार्ट ब्लॉकेज खोलने का उपाय
Loading...

Leave a Reply