digestion

कई बार अचानक से तबीयत खराब होने पर आप परेशान हो जाते हैं उस समय आपको समझ नहीं आता की करना चाहिए। लेकिन छोटी मोटी तकलीफों का इलाज आपकी रसोई यानि किचन में ही मौजूद है। कई सामान्य बीमारियों का इलाज हमारे घर में ही मौजूद रहता है लेकिन हम उनसे अनजान रहते हैं। यह चीजें हमारे किचन में उपलब्ध होती है और जानकारी के अभाव में हम उनका इस्तेमाल नहीं कर पाते।

तेल एक ऐसी चीज है जो लगभग हर किसी के घर में पायी जाती है। वैसे तो अनेकों पकार के तेल मौजूद है लेकिन व्यक्ति अपनी पसंद के अनुसार अपने तेल का चुनाव करता है। जैतून का तेल, बादाम का तेल , नारियल का तेल कुछ ऐसे तेल है जो सबके घरों में पाए जाते हैं। इन तेलों के अलग अलग फायदे होते हैं। इन तेलों का इस्तेमाल केवल बालों में लगाने के लिए ही नहीं बल्कि अन्य कामों के लिए लिए भी होता है।

आज हम आपको तेल से होने वाले हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में बताएंगे। आप जानते ही होंगे की हमारी बॉडी के सारे नर्वस का कनेक्शन नाभि से होता है। इसलिए आप अपनी समस्या के अनुसार अपनी नाभि पर तेल लगाकर अपनी समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। ऐसा करके आप अपनी हेल्थ प्रोब्लेम्स को कण्ट्रोल कर सकते हैं। रात को सोने से पहले नाभि में तेल लगाना बहुत फायदेमंद होता है। कैसे आइये जानते हैं –

1. जोड़ो का दर्द करे सही

फटे होंठ या जोड़ों का दर्द है अगर आप इन चीजों से परेशान है तो आपको ज़रूरत है सरसों के तेल की जिसके द्वारा आप अपनी इस समस्या से छुटकारा पा सकेंगे, अपने पेट की नाभि पर सरसों के तेल की कुछ बूंदें लगाएँ. हाँ यह आपको अजीब लग रहा होगा लेकिन ये प्राचीन औषधि बहुत फायदेमंद है।

2. सर्दी ज़ुकाम से राहत

क्या आपको सर्दी, जुकाम है, तो यह आपके लिए काफी फायदेमंद है, हममे से कुछ लोग ऐसे होते है जिन्हें बारो मॉस ज़ुकाम की शिकायत रहती है तो आपको बस इतना करना है की रुई के फ़ोहे को एल्को*हल में डुबोए और पेट की नाभि पर लगाएँ, बस हो गया। ये सर्दी और जुकाम की अचूक दवा है इससे आपका पुरान से पुराने ज़ुकाम ठीक हो जाएगा।

3. मा*सिक धर्म

लडकियों को मा*सिक धर्म में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं इन दिनों बहुत सारे होर्मोनेल चेंजेस भी होते है जिसके कारण ना उनका मूड ठीक रहता हैं और उनका स्वस्थ्य लेकिन अगर आप मा*सिक धर्म होने वाली इन सम्सायो से बचना चाहती है तो रुई के फ़ोहे को ब्रां*डी में भिगोएँ और इसे पेट की नाभि पर रखें, इससे आपको इन चीजों से मुक्ति मिलेगी।

हेल्थ से जुड़ी सारी जानकारियां जानने के लिए तुरंत हमारी एप्प इंस्टॉल करें। हमारी एप को इंस्टॉल करने के लिए नीले रंग के लिंक पर क्लिक करें –

http://bit.ly/ayurvedamapp

4. मुहासे के लिए

लड़का हो फिर चाहे लड़की हो हर कोई मुहासे की समस्या से परेशान रहता हैं अगर आप भी इसी समस्या से परेशान हैं और कोई भी उपाय काम नहीं आ रहा हैं तो नीम के तेल की कुछ बूंदें पेट के बीच में डालकर और आस-पास मसाज करने से आपके कील-मुहाँसे ठीक हो सकते हैं, और आपकी त्वचा बेदाग़ वा सुंदर हो जायेगी।

5. चेहरे पर निखार

अगर आपका चेहरा दागरहित वा सुंदर हो तो क्या कहने ऐसा कहा जाता है कि बादाम के तेल की कुछ बूंदें पेट की नाभि पर लगाने से चेहरे पर निखार आता है और आपकी रंगत भी अच्छी होती हैं।

6. प्र*जनन क्षमता

नारियल या जैतून के तेल की कुछ बूंदें नाभि पर लगाएँ और धीरे-धीरे मसाज करें. इससे प्र*जनन क्षमता बढ़ती है और आपकी प्र*जनन से रिलेटेड समस्याए भी खत्म होती हैं।

7. मुलायम त्वचा

हर किसी को बेबी सॉफ्ट त्वचा चाहिए क्या आपको स्वस्थ और मुलायम त्वचा चाहिए अगर हां तो आपको बस गाय का घी नाभि पर लगाना होगा और आप भी पा सकेंगे बेबी सॉफ्ट त्वचा।

8. मोटापा

यदि आप मोटापे की समस्या को कम करना चाहते हैं तो नाभि में रोजाना जैतून का तेल लगाएं। ऐसा करने से कुछ ही दिनों में आपको मोटापे से छुटकारा मिल जायेगा

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleशरीर में पानी की कमी से होते है 100 से भी ज्यादा रोग | Signs That You’re Not Drinking Enough Water
Next articleवात-पित्त-कफ़ को कैसे संतुलित रखे, और पाए समस्त रोगों से छुटकारा-How to control vata pitta kapha
Loading...

Leave a Reply