elaichi ke fayde cardamom benefits in hindi

छोटी इलायची खून बढ़ाने, बदहज़मी, भूख बढ़ाने, एसिडिटी में, फेफड़ो के रोगो, हृदय रोगो, डी टॉक्सिफिकेशन, मुंह के रोगो, खांसी, हिचकी, सिरदर्द, पेशाब के रोगो और यहाँ तक के कैंसर के रोगो में भी अत्यंत लाभकारी हैं। इसलिए तो नाम में छोटी और गुणों में बहुत बड़ी हैं ये छोटी इलायची। आइये जाने विभिन्न बीमारियो में इसके प्रयोग।

■   रात को इलायची खाकर गर्म पानी पीने के फायदे जानकर चौक जायगे आप

इलायची का इस्तेमाल भारत में पुराने समय से होता आ रहा है। और यह घरेलू नुस्खों में सबसे पहले स्थान पर आती है। इलायची स्‍वास्‍थ के लिहाज से अच्‍छी मानी जाती है, हालांकि इसका सेवन आमतौर पर मसाले के रूप में किया जाता है। लेकिन इसका प्रयोग करके कई बीमारियों से निजात मिल सकती है। इलायची को मसालों की महारानी कहा जाता है। तीव्र सुगन्ध और स्वाद की वजह से इसका इस्तेमाल विभिन्न व्यंजनों में होता है। अरोमाथेरेपी में भी इलायची के तेल का प्रयोग किया जाता है। जहां बड़ी इलायची को हम व्यंजनों को लजीज बनाने के लिए एक मसाले के रूप में प्रयोग करते हैं, वहीं पर छोटी इलायची व्‍यंजनों में खुशबू बढ़ाने के काम आती है। दोनों ही प्रकार की इलायची हमारे स्‍वास्‍थ्‍य पर प्रभाव डालती हैं। इलायची का प्रयोग भोजन पकाने में करने से हमारा शरीर कई रोगों से निजात पा सकता हैं।

इलायची खाने के कई फायदे हैं, जिस तरह भी हो एक-दो इलायची रोजाना खाते रहिए ।

इलायची दो प्रकार की होती है बड़ी इलायची और छोटी इलायची। दोनों ही आपकी सेहत के लिए बेहद जरूरी हैं।

■   तकिये के नीचे इलायची रखने के हैं अद्भुत लाभ, जानकर हैरत में पड़ जायेंगे आप

छोटी इलायची के है बड़े बड़े फायदे-

कैंसर रोधी

इलायची कैंसर रोधी है, इसका नियमित सेवन आपको कैंसर जैसी भयंकर बीमारी से बचने में सहायक हैं।

cancer ka ilaj cancer treatment in hindi

शरीर को एनीमिया से बचाती है

एक गिलास गर्म दूध में एक या दो चुटकी इलायची पाउडर और चौथाई या आधा चम्मच हल्दी मिलाए. एनीमिया के लक्षणों और कमजोरी से राहत पाने के लिए इसे हर रात पिएँ.

anemia treatment

सिरदर्द, पेशाब में जलन

इलायची का पेस्ट बनाकर माथे पर लगाने से सिरदर्द में तुरंत आराम मिलता है और पेशाब में जलन होने पर, इलायची को आंवला, दही और शहद के साथ सेवन करने से समस्‍या दूर होती है।

urine rokne ke nuksan

■   पेशाब में दिक्कत आना या यूरीन इन्फेक्शन होना, इसका कारण-लक्षण और सरल घरेलु उपाय

लाल रक्त कणिकाओं के निर्माण में सहायक

इलायची एक सुगंधित मसाला है. सामान्यतया यह मीठे व्यंजनों का स्वाद बढ़ाने के लिए उपयोग में लाई जाती है. इसकी गंध तीक्ष्ण होती है. इसीलिए इसका उपयोग माऊथ फ्रेशनर के रूप में किया जाता है. इसमें आयरन, राइबोफ्लेविन और विटामिन ‘सी’ के साथ-साथ नियासिन भी पाया जाता है. ये लाल रक्त कणिकाओं के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है.

khoon saaf karne ke upay blood cleansing tips

अधिक हिचकी को रोकना

अधिक हिचकी भी इंसान के लिए खतरनाक हो सकती है। यदि आपको अधिक हिचकी आती हो तो तुंरंत छोटी इलायची का सेवन करें। आपको हिचकी से तुंरत राहत मिलेगी।

hiccup

पाचनक्रिया को सुचारू बनाती है

खाने के बाद अक्सर लोग इलायची का उपयोग माऊथ फ्रेशनर के रूप में करते हैं. जानते हैं क्यों? दरअसल इलायची प्राकृतिक रूप से गैस को खत्म करने का काम करती है. पाचनक्रिया को बढ़ाती है. पेट की सूजन कम करती है, व यह छाती की जलन को खत्म करने का काम करती है.

digestion

■   पाचन और मेटाबॉलिज्म को रखना है दुरुस्त, तो 10 मिनट में करें ये 3 व्यायाम

खांसी में दे राहत

खांसी होने पर अदरक, छोटी इलायची और लौंग के साथ 3 तुलसी के पत्तों को मिलाकर खाने से खांसी में राहत मिलती है।

khasi ka ilaj cough treatment remedy in hindi

गले में खराश या दर्द

जिन लोगों के गले में दर्द या खराश की दिक्कत हो वे छोटी इलायची के अंदर के दानें निकालकर उन्हें बारीक करके चबाएं और बाद में गुनगुना पानी पीएं।

throat pain

भूख नहीं लगती

अगर आपको भूख नहीं लगती तो आप एक इलायची हमेशा अपने मुंह में रखिये, धीरे धीरे आपकी भूख भी खुल जाएगी.

bhookh na lagne ka ilaj

■   भूख बढ़ाने के 5 रामबाण घरेलू नुस्खे और आयुर्वेदिक दवा

साँस की दुर्गंध दूर करती है

इलायची में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। साथ ही, इसका तीक्ष्ण स्वाद और तीक्ष्ण महक साँसों की दुर्गंध दूर करती है व पाचनतंत्र को मजबूत बनाती है. रोज खाने के बाद एक इलायची खाएँ या रोज सुबह इलायचीयुक्त दूध अथवा काढ़ा पी सकते हैं.

bad breath muh ki badboo ka ilaj

एसिडिटी से छुटकारा

इलायची चबाने पर इसमें से कई तरह के तेल निकलते हैं, जो आपकी लार ग्रंथियों को उत्तेजित करते हैं, इससे पेट ठीक तरह से कार्य करता है. ये तेल पेट एवं आँतों में ठंडक का अहसास कराते हैं. इसीलिए इसे चबाने से एसिडिटी से होने वाली जलन दूर हो जाती है.

acidity

पेट की गैस में राहत

इलायची पेट में गैस और एसिडिटी में राहत देती है। यदि खाना खाने के बाद एसिडिटी हो आप खाना खाने के बाद तुंरत इलायची को खाएं।

pet ki gas ka ilaj

■   आ गया गैस को खत्‍म करने का दुनिया का सबसे बेहतरीन तरीका

फेफड़ों से जुड़े रोगों का है प्राकृतिक इलाज

इलायची सर्दी, ज़ुकाम, खाँसी, अस्थमा और फेफड़ों से जुड़ी दूसरी बीमारियों से राहत दिलाती है. आयुर्वेद में इलायची की तासीर गर्म मानी गई है. यह शरीर को अंदर से गर्म रखती है व इसके सेवन से कफ़ बाहर हो जाता है. सर्दी, खाँसी या छाती में बलगम जमाव है, तो इन परेशानियों से राहत पाने के लिए इलायची सबसे बेहतर प्राकृतिक उपचार है. यदि आपको ज्यादा सर्दी हो रही हो तो भाप लेते समय गर्म पानी के बर्तन में इलायची के तेल की कुछ बूँदें डाल दें तेजी से आराम मिलता है.

sardi khasi jukaam ka ilaj

मुंह की बदबू से राहत

जिन लोगों को सांस की बदबू की समस्या हो वे खाना खाने के बाद हमेशा एक छोटी इलायची का सेवन करें।

ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए फायदेमंद

जिन लोगों को ब्लड प्रेशर की दिक्कत हो वे इलायची का नियमित रूप से इस्तेमाल करें एैसा करने से ब्लड प्रेशर सामान्य रहता है और आराम भी मिलता है।

low blood pressure

■   20 साल पुरानी ब्लड प्रेशर की बीमारी को भी ठीक कर देगा ये घरेलू उपाय

बदहजमी की शिकायत

आयुर्वेद के अनुसार यदि आपको बदहजमी की शिकायत है तो दो से तीन इलायची, अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा, थोड़ी सी लौंग और सूखा धनिया पीस लें. इस पाउडर को गर्म पानी के साथ सेवन करें. पेट से जुड़ी पाचन संबंधित सभी व्याधियाँ खत्म हो जाएँगी.

indigestion badhajmi

छालों में राहत

यदि मुंह में छालें हो तो आप बड़ी इलायची का प्रयोग करें। बड़ी इलायची को बारीक पीसें और उसमें थोड़ी चीनी डाकर छालों वाली जगह पर रखें। आपको राहत मिलेगी।

muh ke chale ka ilaj mouth ulcers treatment in hindi

■   मुंह जीभ और होठों के छालों का इलाज के 10 आसान घरेलू नुस्खे

हृदय-गति को नियमित करना

इलायची पोटैशियम, कैल्शियम आदि खनिजों से भरपूर होने के कारण यह शरीर की इलेक्ट्रोलिसिस प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. इलायची दिल की गति को नियमित करने में मदद करती है. साथ ही, यह ब्लडप्रेशर को भी नियंत्रित करती है. इसीलिए अगर आप अपने हृदय को हमेशा स्वस्थ बनाए रखना चाहते हैं तो अपने दैनिक भोजन में इलायची को अवश्य शामिल करें.

abnormal-heart-rate

शरीर के अन्दर मौजूद विभिन्न विषों को नष्ट करती है

इलायची मैंगनीज का एक प्रमुख स्रोत है. ‘मैंगनीज’ एन्जाईम के स्राव में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, फ्री रेडिकल्स को नष्ट करता है, तथा शरीर से जहरीले तत्व बाहर करने का कार्य बखूबी संपन्न करता है.

इलायची के ये गुण आपको मजबूर कर देंगे कि इलायची को आप हमेशा अपने घर या अपने बैग आदि में रखे । सेहत के लिहाज से इलायची के ये गुण आपको कई तरह की परेशानियों से बचा सकते हैं।

full-body-detox

■   एलोवेरा का ऐसे करे उपयोग हमेशा के लिए जड़ से ख़त्म हो जाएँगे ये 30 रोग
Loading...

Leave a Reply