जायफल के फायदे और लाभ इन हिंदी

जायफल रूचि उत्पन्न करनेवाला, जठराग्नि, प्रदीपक तथा कफ और वायु का शमन करनेवाला है | जायफल जितना वयस्कों के लिए हितकर है, उतना ही बालकों के लिए भी हितकर है | यह ह्रदयरोग, दस्त, खाँसी, उलटी, जुकाम आदि में लाभदायी है |यूनानी मतानुसार जायफल पेशाब लाने वाले, दुग्धवर्धक, नींद लाने वाले, पाचक व पौष्टिक होते हैं | वजन में हलके, पोले और रूखे जायफल कनिष्ठ और बड़े, चिकने व भारी जायफल श्रेष्ठ माने जाते हैं |जायफल का पेड़ काफी बड़ा होता है। इसकी 80 जातियां मानी जाती हैं। भारत व मालद्वीप में कुल 30 जातियां पायी जाती हैं। आइए जाने जयफल के 9 फ़ायदों के बारे में…

आइये जानें जायफल बेनिफिट्स फॉर बेबी इन हिंदी, जायफल तेल, जायफल का चूर्ण, जायफल के उपाय,जायफल का पेड़, जायफल के फायदे चेहरे के लिए, जायफल पाउडर, जायफल के चमत्कारिक गुण, Jaiphal Health Benefits, jayfal ke fayde, jaiphal ke fayde। 
■  दिमाग तेज करने और याददाश्त बढ़ाने के 7 उपाय और आयुर्वेदिक दवा

जायफल के फायदे

Jaiphal Ke Fayde In Hindi

मुंह की दुर्गन्ध और फीकापन

जायफल के छोटे-छोटे टुकड़ों को दिन में 2-3 बार चूसते रहने से मुंह की दुर्गन्ध और फीकापन दूर हो जाता है। जायफल के टुकड़े 240 से 360 मिलीग्राम की मात्रा में चबाने से मुंह की दुर्गन्ध दूर होती है। इसके सेवन से चक्कर एवं मुर्च्छा (बेहोशी) के लक्षण प्रकट हो सकते हैं।

हिचकी (Jaiphal For Hiccups In Hindi)

तुलसी के रस में जायफल (jaiphal)को घिसकर एक चम्मच की मात्रा में 3 बार खायें। इससे हिचकी बंद हो जाती है।चावल के धुले पानी में जायफल को घिसकर पीने से हिचकी व उल्टी बंद हो जाती है।

गैस, कब्ज की तकलीफ (Jaiphal For Constipation In Hindi)

नींबू के रस में जायफल घिसकर 2 चम्मच की मात्रा में सुबह-शाम भोजन के बाद सेवन करने से गैस, कब्ज की तकलीफ दूर होगी।

सिर दर्द (Jaiphal For Headache In Hindi)

कच्चे दूध में जायफल(jaiphal) घिसकर सिर में लगाएं। इससे बहुत आराम मिलेगा। सिर में दर्द होने पर जायफल को पानी में घिसकर माथे पर लेप की तरह लगाने से सिर का दर्द ठीक हो जाता है।

मुंहासे (Jaiphal For Skin In Hindi)

कच्चे दूध में जायफल घिसकर रोजाना सुबह और रात में पूरे चेहरे पर लगाएं। इससे मुंहासें के अलावा चेहरे के काले धब्बे भी दूर होंगे और चेहरा भी निखर जायेगा।

■  कान दर्द का इलाज के लिए 10 आसान उपाय और घरेलू नुस्खे

मुंह के छाले (Jaiphal For Mouth Ulcers In Hindi)

जायफल (jaiphal)के काढे़ से 3-4 बार गरारें करें। इससे मुंह के छाले नष्ट हो जाते हैं।जायफल के रस में पानी मिलाकर कुल्ले करने से छाले ठीक हो जाते हैं।

सर्दी व जुकाम (Jaiphal For Cough And Cold In Hindi)

जायफल को पानी में घिसकर लेप बना लें। इस लेप को नाक पर, नथुनों पर और छाती पर मलने से जल्दी आराम मिलेगा। साथ ही जायफल का चूर्ण सोंठ के चूरन के बराबर की मात्रा में मिलाकर एक चौथाई चम्मच 2 बार खिलायें। इससे सर्दी और जुकाम का रोग दूर हो जाता है।जायफल पिसा हुआ एक चुटकी की मात्रा में लेकर दूध में मिलाकर देने से सर्दी का असर ठीक हो जाता है। इसे सर्दी में सेवन करने से सर्दी नहीं लगती है।

बच्चों के दस्त (Jaiphal For Babies In Hindi)

जायफल को पानी में घिसकर आधा-आधा चम्मच 2-3 बार पिलाएं। इससे बच्चों का दस्त बंद हो जाता है।

नींद न आना (Jaiphal For Insomnia In Hindi)

गाय के घी में जायफल घिसकर पैर के तलुवों और आंखों की पलकों पर लगाएं, इससे नींद अच्छी आएगी। जायफल को जल या घी में घिसकर पलकों पर लेप की तरह लगाने से नींद जल्दी आ जाती है।

पेट का फूलना, पेट में दर्द और पतले दस्त (Jaiphal For Stomach Problems In Hindi)

1 ग्राम जायफल के चूर्ण को आधे कप पानी के साथ दिन में सुबह और शाम पीयें इससे पेट का फूलना, पेट में दर्द और पतले दस्त बंद हो जाते हैं।

■  कमर पतली करने और स्लिम होने के 5 आसान उपाय और तरीके

दोस्तों जायफल के लाभ, Nutmeg Benefits in Hindi language and hindi meaning of nutmeg, जायफल के फायदे और नुकसान का ये लेख कैसा लगा हमें जरूर बताएं और अगर आपके पास nutmeg benefits in Hindi language, जायफल के स्वास्थ्य लाभ, Jaiphal Ke Labh Memory Ke Liye In Hindi, Jaiphal (जायफल) औषधीय के सुझाव है तो हमारे साथ शेयर करें।

4 COMMENTS

Leave a Reply