जौ के फायदे और लाभ इन हिंदी | जौ का पानी पीने के फायदे इन हिंदी | जौ का पानी कैसे बनाये?

जौ एक किस्म का अनाज होता है जो देखने में गेंहू की तरह लगता है। जौ गेहूं की अपेक्षा हल्का होता है। जौ में लैक्टिक एसिड, सैलिसिलिक एसिड, फॉस्फोरिक एसिड, पोटैशियम और कैल्शियम होता है। अगर आपके पेट और उसके आसपास अधिक चर्बी जमा हो गई हो तो जौ के पानी का सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। इसको पीने से आपकी पेट की चर्बी कम होने लगती है।

आइये जानें जौ के फायदे और नुकसान, जौ के औषधीय गुण, जौ की रोटी के फायदे, जौ के आटे के फायदे, जौ की तासीर, जौ का दलिया, जौ का आटा, jau khane ke fayde ,Benefits of Barley in Hindi ,jo ki roti ke fayde ।
■  जल्दी गोरा होने के 10 आसान उपाय और घरेलू नुस्खे

जौ की रोटी का इस्तेमाल अक्सर डायबिटिज मरीजो के लिए बेहतर माना जाता है। उनके शरीर के लिए यह बहुत ही फायदेमंद होता है। इस तरह की बीमारियों के अलावा और भी कई तरह की बीमारियां है जिसमे यह हमारे शरीर को बहुत फायदा करता है। और हमारे शरीर मे उन बीमारियो से लड़ने की क्षमता पैदा करता है। जौ में भरपूर मात्रा में विटामिन बी-कॉम्प्लेक्स, आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, मैगनीज, सेलेनियम, जिंक, कॉपर, प्रोटीन, अमीनो एसिड, डायट्री फाइबर्स सहित कई तरह के एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। जो कि हमारी सेहत को काफी फायदा पहुंचाते है। इसका इस्तेमाल हम अनाज के रुप मे तो करते ही है साथ ही अगर इसका इस्तेमाल पानी के साथ किया जाएं तो यह हमारे शरीर मे बहुत फायदा पहुंचाता है। यह कई बीमारियों से निजात दिलाने मे हमारी सहायता करता है।

जौ के पानी को तैयार की विधि : Jau Ka Pani Banane Ki Poori Vidhi

Jau Ka Pani Kaise Banaye – Barley Water Recipe In Hindi

इसके लिए आप कुछ मात्रा में जौ ले लीजिए और उसे अच्छी तरह साफ कर लीजिए उसके बाद इसे करीब चार घंटे तक पानी में भिगोकर छोड़ दीजिए। फिर इस पानी को तीन से चार कप पानी में मिलाकर धीमी आंच में कम से कम 45 मिनट तक उबाले। इसके बाद गैस बंद कर दें और इसे ठंडा होने दे। जब यह ठंडा हो जाएं तो इसे एक बोतल में भरकर इसके पानी को पीने के इस्तेमाल लेवे।

■  हिप्स और थाई कम करने के 5 आसान तरीके और घरेलू उपाय

जौ के फायदे

Jau Ke Pani Ke Fayde, Labh Aur Aushadhiya Gun In Hindi

1. मोटापा, पेट और कमर की चर्बी घटाए (Barley Water For Weight Loss In Hindi)

वजन सबंधी परेशानी मे यह बहुत ही उपयोगी होता है। इसमें ऐसे तत्व पाएं जाते है। जिसका सेवन करने से मेटाबॉलिज्म बढ़ते है। जौ मोटापे को कम करने मे उपयोगी होता है जिससे आप स्लिम नजर आ सकते है।

कैसे कम करता है मोटापा –

जौ घुलनशील और अघुलनशील फाइबर का स्रोत होता है। इस गुण के कारण आपको देर तक पेट भरा हुआ महसूस होता है। दो लीटर पानी में दो बड़े चम्मच जौ डालकर उबालें। उबालने के वक्त ढक्कन को अच्छी तरह से लगा दें ताकि जौ के दाने अच्छी तरह से पक जायें। जब यह मिश्रण पानी के साथ घुलकर हल्के गुलाबी रंग का पारदर्शी मिश्रण बन जायें तो समझ जाना चाहिए कि यह पीने के लिए तैयार है, इसको छानकर रोज इसका सेवन करें। इसमें नींबू, शहद और नमक भी डाल सकते हैं। छिलके वाले में ज्यादा फाइबर होता है और पकाने में ज्यादा समय लगता है इसलिए बिना छिलके वाले पकाने में आसान हैं। और जौ-चने के आटे की चपाती के सेवन से भी पेट और कमर ही नहीं सारे शरीर का मोटापा कम हो जाएगा।

2. यूरीन की समस्या (Barley Water For Urine Problems In Hindi)

अगर आपको यूरिन संबंधी किसी भी प्रकार की समस्या है, तो जौ के पानी का सेवन करना काफी फायदेमंद साबित होता है। यह आपकी यूरीन सबंधी प्रोब्लम को दूर रखता है।

3. पैरों की सूजन (Barley Water For Swelling In Hindi)

गर्भावस्था के दौरान महिला के पैरों में होने वाली सूजन को कम करता है। और उनके पैरो की सूजन से सबंधी परेशानी को दूर करता है।

4. यूरीनरी इंफेक्‍शन, डीहाइड्रेशन, शरीर के विषाक्त पदार्थ (Barley Water For Dehydration And Detoxification In Hindi)

इस मिश्रण (बिंदु क्रमांक 1 में बताया गया मिश्रण) को पीने से पेट की चर्बी तो कम होगी साथ ही डीहाइड्रेशन की समस्‍या भी नहीं होगी। यह यूरीनरी इंफेक्‍शन के उपचार में भी मददगार है। यह कब्ज़ को दूर करने के साथ-साथ अमा दोष (आयुर्वेद के अनुसार पेट के विषाक्त अवांछित पदार्थ) से भी राहत दिलाता है। इस अनाज में मूत्रवर्द्धक (diuretic) गुण होता है जो विषाक्त पदार्थों के साथ शरीर के अतिरिक्त पानी को भी निकाल देता है।

■  चेहरे के गड्ढे भरने के 5 आसान उपाय और इलाज 

5. ह्रदय की बीमारीयो में (Barley Water For Heart In Hindi)

इसमें पाया जाने वाले तत्व कोलेस्ट्राल के लेवल को ठीक रहता है। जिसके कारण आपको दिल संबंधी किसी भी तरह की बीमारी नहीं होगी। दिल की बीमारी होने का मुख्य कारण कोलेस्ट्रॉल लेवल कम होना होता है।

6. पेट मे जलन (Barley Water For Stomach In Hindi)

गर्मियों के मौसम में इसे पीने से ठंडक मिलती है। अगर आपने तेज मसालेदार खाना खाया है जिसके कारण आपको पेट में जलन हो रही हो तो इसे दूर करने के लिए आप जौ के पानी का सेवन करे जिससे आपकी पेट की जलन मे काफी फायदा करता है।

7. इम्यूनिटी सिस्टम बनाए मजबूत (Barley Water For Immunity In Hindi)

इसमें ऐसे तत्व पाए जाते है। जो कि आपके शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर निकाल देता है। जिससे कि आपका इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत हो जाता है। साथ ही आपकी स्किन में निखार भी आता है।

■  पैर के अंगूठे में काला धागा बांधने से ये बीमारी जड़ से ख़त्म हो जाती है, महिलाओं के लिए ये वरदान है

दोस्तों jau ka pani kaise banaye, jau ka pani banane ki poori vidhi, jau ka pani kaise piye in hindi का ये लेख कैसा लगा हमें जरूर बताएं और अगर आपके पास Barley Hindi Meaning & Benefits, जौ का पानी पीने के फायदे क्या हैं?, Health Benefits of Barley Water in Hindi, Jau ka paani peene ke fayde, जौ का पानी कैसे बनाये? इसे क्यों पीना चाहिए? के सुझाव है तो हमारे साथ शेयर करें।

3 COMMENTS

Leave a Reply