खर्राटे की समस्‍या को प्रारंभिक अवस्‍था में घरेलू उपायों की मदद से पूरी तरह से दूर किया जा सकता है। आइए खर्राटे को दूर करने के घरेलू उपायों की जानकारी लेते हैं।

घरेलू उपायों की मदद से दूर करें खर्राटे

खर्राटे लेने की समस्या आजकल इतनी सामान्य हो गई है कि लोगों ने इसे अब बीमारी समझना ही छोड़ दिया गया है। खर्राटे लेने वाले को भले ही कुछ पता न चलें लेकिन उसके साथ सोने वाले की तो नींद खराब होती ही है। जीं हां नींद में खर्राटे लेने की आदत से आप न केवल अपने साथी की नाराजगी का शिकार हो सकते हैं, वरन इससे आपके शरीर पर अन्य बहुत से दुष्प्रभाव भी पड़ते हैं। इससे आपकी देखने की क्षमता पर बुरा असर पड़ने के साथ ही इसका सीधा संबंध दिल से जुड़ी कई बीमारियों से भी है। इसलिए अगर यह समस्‍या बहुत बढ़ गई है तो खर्राटे वाले को तुरंत डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहिए। हालांकि खर्राटे की समस्‍या को प्रारंभिक अवस्‍था में घरेलू उपायों की मदद से पूरी तरह से दूर किया जा सकता है।

हल्दी का इस्तेमाल

हल्दी में एंटी-सेप्ट‍िक और एंटी-बायोटिक गुणों के कारण, इसके इस्तेमाल से नाक का रास्‍ता साफ हो जाता है जिससे सांस लेना आसान हो जाता है। रात को सोने से पहले रोजाना हल्‍दी का दूध पीने से खर्राटों की समस्‍या से बचा जा सकता है।

turmeric

लहसुन का प्रयोग

लहसुन, नासिका मार्ग में बलगम के निर्माण और श्वसन प्रणाली में सूजन को कम करने में मदद करता है। अगर आप साइनस रुकावट के कारण खर्राटे लेते हैं तो, लहसुन आपको राहत प्रदान करता है। लहसुन में हीलिंग गुण होते है। जो ब्लॉकेज को साफ करने के साथ ही श्वसन-तंत्र को भी बेहतर बनाते है। अच्छी और चैन की नींद के लिए लहसुन का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद है। एक या दो लहसुन की कली को पानी के साथ लें। इस उपाय को सोने से पहले करने से आप खर्राटों से राहत पा चैन की नींद ले सकते हैं।

garlic

ऑलिव ऑयल भी है फायदेमंद

ऑलिव ऑयल एक बहुत ही कारगर घरेलू उपाय है। इसमें भरपूर मात्रा में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण की मौजूदगी श्वसन तंत्र की प्रक्रिया को सुचारू बनाए रखने में बहुत फायदेमंद होती है। साथ ही यह दर्द को कम करने में मदद करता है। एक आधा छोटी चम्‍मच ऑलिव ऑयल में सामान मात्रा में शहद मिलाकर, सोने से पहले नियमित रूप से लें। गले में कंपन को कम करने और खर्राटों को रोकने के लिए नियमित रूप से इस उपाय का प्रयोग करें।

OLIVE-oil-for-hair-650x365

 
Loading...

NO COMMENTS

Leave a Reply