इमली वैसे तो पूरे भारतवर्ष में मिलता है । इमली का पेड़ लगभग 10 से 50 फुट लम्बा होता है इसके पत्ते नीम के पत्ते की तरह होते है । इसके फल बहुत ही खट्टे होते है ।यह स्त्रियों को बहुत ही पसन्द है ।इमली के पत्ते छाल एवं फल भी बहुत लाभदायक होता है ।पर इमली के बीज  के गुण के बारे में बहुत ही कम लोगो को जानकारी है । इमली के बीज बहुत लाभकारी होता है । इमली के फल को प्रयोग में लाने के बाद के बाद प्रायः लोग इसके बीज  को फेक देते है ।

tamarind1

इमली के बीज के फायदे

मर्दाना शक्तिवर्धक , स्वप्न दोष , वीर्यवर्धक और स्त्रियों के प्रदर रोग में भी बहुत फायदेमंद होता है ।

इसके प्रयोग के प्रथम विधि

इमली के बीज 100 ग्राम लेकर इसे भून लीजिये। भून लेने के बाद इसे कूटकर छान ले । इसमें बुरा खांड 100 ग्राम मिला ले। इसके दो चम्मच प्रतिदिन सुबह गर्म दूध से ले। यह स्वप्न दोष और मर्दाना ताकत बढ़ाने में लाभदायक हैं। स्त्रियों का प्रदर भी इससे ठीक होता हैं।

tamarind-1

इसके प्रयोग के एक दूसरी विधि

इमली के बीज 100 ग्राम को 2 से 3 दिन पानी में भिगोये और फिर इसके छिलके को उतार कर छाया में सुखाले। सूख जाने के बाद इसे महीन पीस ले और और उस चूर्ण में समान भाग मिश्री मिलाकर पीसे ले ।फिर एक चौथाई चम्मच प्रतिदिन सुबह शाम दूध के साथ इस चूर्ण को ले। एक से दो महीने के सेवन से शीघ्र पतन दूर होगा, वीर्य गाढ़ा एवं मर्दाना ताकत में अभूतपूर्व वृद्धि  हो जाती है ।

 
Loading...

NO COMMENTS

Leave a Reply