अक्सर लोग वजन कम करने पर अधिक और संपूर्ण फिटनेस पर कम ध्यान देते हैं। जबकि फिटनेस वजन घटाने से बेहतर होती है। इससे आपका संपूर्ण शरीर प्रभावित होता है, न कि सिर्फ कुछ हिस्सों से फैट घटना है।

■   जल्दी गोरा होने के 10 आसान उपाय और घरेलू नुस्खे

फिटनेस पर है ज्यादा ध्यान देना जरूरी

आप एक्सरसाइज क्यों करते हैं? वजन कम करने के लिए या फिर फिट रहने के लिए? क्या आप पतले-दुबले होते तो एक्सरसाइज नहीं करते? जी हां, नहीं करते। आमतौर पर ऐसा ही होता है। लोग स्वस्थ रहने के लिए नहीं बल्कि पतले होने के लिए एक्सरसाइज करते हैं। सेहत यानी फिटनेस स्वस्थ खान-पान, व्यायाम, नींद और सुख से मिलती है। शारीरिक रूप से स्वस्थ होने का मतलब है शरीर में वह क्षमता होना जो आपके रोजमर्रा के काम के लिए जरूरी होती है, वह क्षमता होना जो बीमारियों से लड़ती है और साथ ही, वह क्षमता भी जो आपातकालीन स्थितियों से लड़ने के लिए जरूरी होती है। आइये जानते हैं क्यों आपका लक्ष्य वजन कम करना नहीं बल्कि सेहतमंद बनना होना चाहिए।

वजन कम करने और फिटनेस में फर्क

फिटनेस में वजन कम करना शामिल होता है लेकिन जरूरी नहीं कि वजन कम करने में फिटनेस शामिल हो। कोई इंसान अस्वस्थ तरीके से भी वजन कम कर सकता है जैसे कि क्रैश डायटिंग, ओवर एक्सरसाइजिंग, वेट लॉस पिल्स और अन्य नुकसानदायक तरीकों से। अस्वस्थ तरीके से वजन कम करने में ज्यादातर मसल्स के आसपास का फैट कम किया जाता है लेकिन जो फैट आंतरिक अंगों के आसपास जमा होता है वो इन तरीकों से कम नहीं होता। फिटनेस पाने के तरीकों को अपनाकर आप शरीर का नुकसानदायक फैट दूर कर सकते हैं। इससे आपका तन और मन दोनों स्वस्थ रहेंगे। वजन कम करने का मतलब होता है तेजी से वजन घटाना जबकि फिटनेस स्वस्थ रूप से जीना होता है।

■   आँखों में दर्द और जलन का इलाज 10 आसान उपाय और नुस्खे

श्वसन और संचार प्रणाली के लिए फिटनेस का महत्व

फिटनेस के प्रभाव को समझने का सबसे आसान तरीका है ये देखना कि आपके शरीर एक लंबा, बीमारियों से मुक्त और स्वस्थ जीवन जीने के लिए किन चीजों की जरुरत होती है। इन सबके लिए आप अपने शरीर के सिस्टम पर निर्भर होते हैं, और आपका शरीर अपने अंगों व ऊतकों के स्वास्थ्य पर निर्भर होता है। इस बारे में बात करते हुए हम सबसे पहले श्वसन और संचार प्रणाली के बारे में सोचते हैं। आपको मालूम है कि दिल वह है जो शरीर में खून व ऑक्सीजन का संचार करता है। एक्सरसाइज दिल की इस काम में मदद करता है। इससे हमारी त्वचा भी स्वस्थ रहती है। इसी तरह, स्वस्थ खानपान से धमनियों व रक्त संचरण को फायदा पहुंचता है।

पाचन तंत्र के लिए फिटनेस का महत्व

जब हमें कब्ज या फिर पाचन से संबंधी कोई  समस्या होती है तो हम राहत के लिए अपने खानपान में कुछ परिवर्तन कर लेते हैं। साथ ही, पाचन संबंधी समस्याओं से निपटने में एक्सरसाइज से भी मदद मिलती है। ब्रीदिंग, वॉकिंग और अन्य शारीरिक गतिविधियों से पाचन तंत्र को फायदा पहुंचता है। अचानक से वजन कम हो जाने से हमारे पाचन तंत्र को काफी नुकसान होता है। इसकी बजाय, संतुलित खानपान और व्यायाम के माध्यम से फिटनेस पाने की कोशिश करें।

   जल्दी दाढ़ी और मूंछ बढ़ाने के 5 आसान तरीके और घरेलू उपाय

हृदय प्रणाली के लिए सेहत का महत्व

लगातार एक के बाद एक कई शोध ये साबित कर चुके हैं कि यदि आप फिट हैं तो आपका हृदय स्वास्थ्य बेहतर होगा। हृदय प्रणाली शरीर को ऑक्सीजन और पोषण पहुंचाने के लिए जिम्मेदार मानी जाती है। तुरंत वजन घटाने की बजाय अगर आप अपनी फिटनेस पर ध्यान देते हैं तो इससे आपको हृदय संबंधी समस्याओं जैसे कि दिल का दौरा आदि से सुरक्षा मिलेगी। कार्डियो एक्सरसाइज हृदय प्रणाली के स्वस्थ रहने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। हालांकि बहुत से लोग कार्डियो एक्सरसाइज को वजन घटाने से जोड़कर देखते हैं।

नर्वस सिस्टम के लिए सेहत का महत्व

नर्वस सिस्टम में ब्रेन और स्पाइनल कॉर्ड शामिल होते हैं। शारीरिक गतिविधि से ब्रेन तेज और सक्रिय होता है। यही आपको फुर्तीला भी बनाता है। नर्वस सिस्सम की एक्सरसाइज मोटापे की समस्या से ग्रस्त लोगों के लिए भी फायदेमंद होती है। जल्दी वजन कम करने वाले लोग इस तरफ ध्यान नहीं देते। मानसिक स्वास्थ्य स्वस्थ जीवन के लिए जरूरी होता है। बिना फिटनेस के बारे में सोचे यदि आप वजन कम करते हैं तो आपको दिमागी रूप से थकान हो सकती है। इसलिए बेहतर खानपान और अच्छी एक्सरसाइज पर लंबे समय तक निर्भर रहें, क्योंकि साइज जीरो पाने से बेहतर है कि आपके पास फिटनेस रहे।

■   बिना मेकअप सुंदर कैसे दिखे 10 आसान घरेलू उपाय और नुस्खे

मांसपेशीय प्रणाली के लिए सेहत का महत्व

हर दिन लगातार हमारी मांसपेशियां अपना काम करती रहती हैं। एक्सरसाइज की मदद से मांसपेशीय प्रणाली बेहतर होती है। स्वस्थ आहार योजना मांसपेशियों को उनका काम ठीक प्रकार से करने में सहायक होती है। एक्सरसाइजिंग के सारे पहलू, रेसिस्टेंस ट्रेनिंग से लेकर फ्लेक्सीब्लिटी व कार्डियो ट्रेनिंग, और सही खानपान मांसपेशीय तंत्र को बेहतर करता है। लेकिन अगर आप सिर्फ वजन घटाने पर ध्यान देते हैं तो आप अपने शरीर की वास्तविक आवश्यकताओं को भूल जाते हैं। जल्दबाजी में वजन घटाने से कमजोरी आ सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि आपका शरीर फैट से ज्यादा मसल्स को कम कर रहा होता है।

फिटनेस के अन्य महत्व

फिटनेस आपका प्रदर्शन और स्टैमिना बढ़ाती है। अगर आप फिट हैं तो आमतौर पर जीवनशैली की वजह से होने वाली बीमारियों का खतरा आपके लिए कम हो जाता है। फिटनेस लंबी उम्र का दूसरा नाम है। अगर आप फिट हैं तो आप छोटे-मोटे दर्द से परेशान नहीं होते और साथ ही, आपका आत्मविश्वास भी बना रहता है। वे लोग जो मोटापे से ग्रस्त हैं, उनके लिए फिटनेस में वजन कम करना भी शामिल होता है। लेकिन इस तरह वजन कम करना क्विक वेट लॉस नहीं होता बल्कि अपने खानपान की आदतों और जीवनशैली में परिवर्तन लाकर वजन कम करना होता है।

■   कमर दर्द दूर करने के 5 आसान घरेलू उपाय
Loading...

Leave a Reply