नींद की दवा neend ki dawa in hindi

Agar Neend Na Aaye To Kya Kare | Nind Aane Ki Medicine

अगर आपकी दिनचर्या अनियमित है और आप रोजाना व्यायाम नहीं करते हैं तब आपके लिए चैन की नींद लेना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। तो आइये आज हम आपको बताने जा रहे है एक ऐसा तरीका जिसे आजमाने से न केवल चैन की नींद आयेगी बल्कि आप पूरे दिन एनर्जेटिक भी बने रहेंगे। नींद की दवा

   उल्टी रोकने और जी मिचलाने के 10 आसान घरेलू उपाय इन हिंदी

शहद के फायदे

शहद में पोटैशियम होता है, जो रोग के कीटाणुओं का नाश करता है। कीटाणुओं से होने वाले रोग- जैसे आंतरिक बुखार (टायफायड) ब्रान्कोनिमानियां आदि अनेक रोगों के कीटाणु शहद से खत्म हो जाते हैं।  

गहरी नींद की आयुर्वेदिक दवा

काला नमक के फायदे

आयुर्वेद के अनुसार काला नमक अपने आहार में शामिल करने से शरीर के कई रोग दूर होते हैं। रोज सुबह काला नमक और पानी मिला कर पीना शुरु करें जिससे आपकी ब्लड शुगर – ब्लड प्रेशर – ऊर्जा में सुधार – मोटापा और अन्य तरह की बीमारियां झट से ठीक हो जाएंगी !

आयुर्वेद में नींद आने की दवा
■   दिमाग तेज करने और याददाश्त बढ़ाने के 7 उपाय और आयुर्वेदिक दवा

नींद की दवा

Neend Na Aane Ki Dawa In Hindi

आवश्यक सामग्री 

5 चम्मच जैविक कच्चा शहद (बाजार का मिलावटी शहद प्रयोग न करें),
1 चम्मच सेंधा नमक,

बनाने की विधि 

इन दोनों तत्वों को अच्छे से मिलाकर एक कांच के जार में रख दीजिए। आप चाहें तो अधिक मात्रा में भी इन सा‍मग्रियों को ले सकते हैं।

ध्यान रहे

इनका अनुपात 5:1 का ही होना चाहिए।

उपयोग करने का तरीका 

आपने जो मिश्रण बनाया है उसका एक चम्मच रात में सोने से पहले सेवन करें। इसे अपनी जीभ के नीचे रखें और इसे धीरे-धीरे अपने आप मुंह में घुलने दें।

■   कान दर्द का इलाज के लिए 10 आसान उपाय और घरेलू नुस्खे

क्या होता है फायदा 

इन दोनों के मिश्रण का प्रयोग एक साथ करने से शरीर के लिए जरूरी लगभग सभी पौष्टिक तत्व मिल जाते हैं। इनके कारण ही लीवर के साथ शरीर के दूसरे अंग सही तरीके से कार्य करते हैं। इनके अलावा अच्छी और सुकून भरी नींद के लिए जरूरी है कि आप तनाव से दूर रहें, स्वस्थ दिनचर्या का पालन करें और नियमित रूप से व्यायाम करें।

गहरी नींद की दवा का नाम

शहद के फायदे

Health Benefits Of Honey In Hindi

1 बिस्तर में पेशाब करना (Honey For Bed Wetting In Hindi)

कुछ बच्चे रात में सोते समय बिस्तर में ही मूत्र (पेशाब) कर देते हैं। यह एक बीमारी होती है।

क्या करें

सोने से पहले रात में शहद का सेवन कराते रहने से बच्चों का निद्रावस्था में मूत्र (पेशाब) निकल जाने का रोग दूर हो जाता है।

2 पेट दर्द (Honey For Stomach Ache In Hindi)

एक चम्मच शुद्ध शहद शीतल पानी में मिलाकर पीने से पेट के दर्द को आराम मिलता है।

3 अजीर्ण (Honey For Indigestion In Hindi)

अजीर्ण का रोग नष्ट करने के लिए करें ये प्रयोग –

क्या करें

एक गिलास पानी में एक चम्मच नींबू का रस तथा आधा चम्मच शहद मिलाकर लेना चाहिए।

■   कमर पतली करने और स्लिम होने के 5 आसान उपाय और तरीके

4 दस्त (Honey For Diarrhea In Hindi)

प्रयोग 1

शहद में सौंफ, धनिया तथा जीरा का चूर्ण बनाकर मिला लें और दिन में कई बार चाटें। इससे दस्त में लाभ मिलता है।

प्रयोग 2

अनार दाना चूर्ण शहद के साथ चाटने से दस्त बंद हो जाते हैं।

5 पेट में कीड़े (Honey For Stomach Worms In Hindi)

अजवायन का चूर्ण एक चुटकी को एक चम्मच शहद के साथ लेना चाहिए। दिन में तीन बार यह चूर्ण लेने से पेट के कीड़े मर जाते हैं।

6 भूख न लगना 

एक दो कालीमिर्च तथा दो लौंग को पीसकर शहद के साथ चाटना चाहिए।

7 अम्लपित्त 

धनिया तथा जीरा लेकर चूर्ण बना लें और शहद मिलाकर धीरे-धीरे चाटना चाहिए। इससे अम्लपित्त नष्ट होता है।

8 कब्ज (Honey For Constipation In Hindi)

सौंफ, धनियां तथा अजवायन इन तीनों को बराबर मात्रा में लेकर पीस लें। फिर इस चूर्ण में से आधा चम्मच चूर्ण को शहद के साथ सुबह, दोपहर और शाम को इसका सेवन करना चाहिए। इससे कब्ज दूर होती है।

■   चेहरे और नाक से ब्लैक हेड्स हटाने के 5 आसान उपाय और नुस्खे

9 बवासीर (Honey For Bawaseer Piles In Hindi)

रात्रि को सोते समय एक चम्मच त्रिफला-चूर्ण या एरण्ड का तेल एक गिलास दूध के साथ लेना चाहिए। इससे कब्ज दूर हो जाती है।

10 पीलिया (Honey For Jaundice In Hindi)

प्रयोग 1

त्रिफला का चूर्ण शहद के साथ सेवन करें। इससे पीलिया का रोग नष्ट हो जाता है।

प्रयोग 2

गिलोय का रस 12 ग्राम शहद के साथ दिन में दो बार लें।

प्रयोग 3

नीम के पत्तों का रस आधा चम्मच शहद के साथ सुबह-शाम सेवन करना चाहिए।

11 सिर का दर्द (Honey For Headache In Hindi)

सिर पर शुद्ध शहद का लेप करना चाहिए। कुछ ही समय में सिर का दर्द खत्म हो जायेगा। आधा चम्मच शहद और एक चम्मच देशी घी मिलाकर सिर पर लगाना चाहिए। घी तथा शहद के सूखने के बाद दोबारा लेप करना चाहिए।

12 आंख में जलन (Honey For Eye Irritation In Hindi)

शहद के साथ निबौंली (नीम का फल) का गूदा मिलाकर आंखों में काजल की तरह लगना चाहिए।

13 मुंह के छाले (Honey For Mouth Blisters In Hindi)

छोटी इलायची को पीसकर बारीक चूर्ण बना लें। फिर शहद में मिलाकर छालों पर लगायें।

■   चेहरा साफ करने व गोरा होने की 5 पतंजलि ब्यूटी क्रीम

14 आवाज का बैठ जाना 

मुलहठी का चूर्ण शहद के साथ चाटना चाहिए।

15 पायरिया

मसूढ़ों तथा दांतों पर शुद्ध शहद की मालिश करके गुनगुने पानी से कुल्ला करना चाहिए।

16 शक्तिवर्द्धक

एक कप दूध में एक चम्मच शहद मिलाकर सुबह के समय पीने से ताकत बढ़ती है।

17 जुकाम (Honey For Cold In Hindi)

शहद और अदरक का रस एक-एक चम्मच मिलाकर सुबह-शाम दिन में दो बार पीने से जुकाम खत्म हो जाता है और भूख बढ़ जाती है।

18 उल्टी (Honey For Vomit In Hindi)

गुड़ को शहद में मिलाकर सेवन करने से उल्टी बंद हो जाती है।

19 हाईब्लडप्रेशर (Honey For High Blood Pressure In Hindi)

दो चम्मच शहद और नींबू का रस एक चम्मच मिलाकर सुबह-शाम दिन में दो से तीन बार सेवन करने से हाई बल्डप्रेशर में लाभ होता है।

■   बाल सीधे करने के 10 आसान घरेलू तरीके

20 दांत निकलना 

बच्चों के दांत निकलते समय मसूढ़ों पर शहद मलने से दांत निकलते समय दर्द में आराम रहता है।

21 मोतियाबिंद

9 भाग छोटी मक्खी का शहद, 1 भाग अदरक का रस, 1 भाग नींबू का रस और 1 भाग सफेद प्याज का रस इन सबको मिलाकर और छानकर एक बूंद सुबह और शाम आंखों में डालते रहें इससे मोतियाबिंद दूर हो जाता है। इसमे 12 भाग गुलाब जल डालकर रोजाना इसी प्रकार डालने से आंखों की रोशनी बढ़ती है और चश्मा हट जाता है। स्वस्थ आंखों में असली शहद की एक सलाई हफ्ते मे 1 से 2 बार डालने से आंखों की रोशनी कभी कम नही होगी, बल्कि उम्र बढ़ने के साथ-साथ तेज होती चली जायेगी। साथ ही खाने के लिए चार बादाम रात को पानी में भिगो कर रख लें और सुबह उठते ही चार काली मिर्च के साथ पीसकर मिश्री के साथ चाटे या वैसे ही चबा जाऐं और ऊपर से दूध पी लें।

22 निमोनिया (Honey For Pneumonia In Hindi)

निमोनिया रोग में रोगी के शरीर की पाचन-क्रिया प्रभावित होती है इसलिए सीने तथा पसलियों पर शुद्ध शहद की मालिश करें और थोड़ा सा शहद गुनगुने पानी में डालकर रोगी को पिलाने से इस रोग में लाभ होता है।

23 पक्षाघात-लकवा-फालिस फेसियल, परालिसिस (Honey For Paralysis In Hindi)

लगभग 20 से 25 दिन तक रोजाना लगभग 150 ग्राम शहद शुद्ध पानी में मिलाकर रोगी को देने से शरीर का लकवा ठीक हो जाता है। लगभग 28 मिलीलीटर पानी को उबालें और इस पानी के ठंडा होने पर उसमें दो चम्मच शहद डालकर पीड़ित व्यक्ति को पिलाने से कैल्शियम की मात्रा शरीर में उचित रूप में आ जाती है जोकि लकवे से पीड़ित भाग को ठीक करने में मददगार होती है।

24 भगन्दर 

शहद और सेंधानमक को मिलाकर बत्ती बनायें। बत्ती को नासूर में रखने से भगन्दर रोग में आराम मिलता है।

25 मोटापा दूर करने के लिए (Honey For Weight Loss In Hindi)

120 ग्राम से लेकर 240 ग्राम शहद को 100 से 200 मिलीलीटर गुनगुने पानी में मिलाकर दिन में 3 बार खुराक के रूप में सेवन करें।

■   शहनाज हुसैन के ब्यूटी टिप्स और 5 घरेलु उपाय

26 मोटापा बढ़ाना (Honey For Weight Gain In Hindi)

शहद का रोज दूध में मिलाकर सेवन करने से मोटापा बढ़ता हैं।

27 नींद में चलना 

शहद के साथ लगभग 1-2 ग्राम पोस्ता पीसकर इसको शहद में घोलकर रोजाना सोने से पहले रोगी को देने से अच्छी नींद आती है। इससे रोगी को आराम से नींद आ जाती है।

28 नींद ना आना (अनिद्रा) (Honey For Insomnia In Hindi)

एक-एक चम्मच नींबू का रस और शहद को मिलाकर रात को सोने से पहले दो चम्मच पीने से नींद आ जाती है। जब नींद खुले तब दो चम्मच पुन: लेने पर नींद आ जाती है और यदि केवल पानी के गिलास में शहद की दो चम्मच डालकर पीने से नींद आ जाती है।

29 पेट के कीड़े (Honey For Stomach Worms In Hindi)

दो चम्मच शहद को 250 मिलीलीटर पानी में डालकर दिन में दो बार सुबह और शाम पीने से लाभ होता है। थोड़ी मात्रा में सेवन करने से भी पेट के कीड़े समाप्त हो जाते हैं।

30 आधासीसी (माइग्रेन) (Honey For Migraine In Hindi)

इस रोग में सूर्य उगने के साथ दर्द का बढ़ना और ढलने के साथ सिर दर्द का कम होना होता है, तो जिस ओर सिर में दर्द हो रहा हो उसके दूसरी ओर के नाक के नथुने में एक बूंद शहद डालने से सिर के दर्द में आराम मिलता है। रोजाना भोजन के समय दो चम्मच शहद लेते रहने से आधे सिर में दर्द व उससे होने वाली उल्टी आदि बंद हो जाती हैं।

31 कंपकंपाना 

शहद के साथ लगभग 1 ग्राम का चौथा भाग से लगभग 1 ग्राम सुहागे की खील (लावा) को चटाने से आक्षेप और मिर्गी में बहुत आराम आता है। शहद के साथ लगभग 1 ग्राम का चौथा भाग जटामांसी का चूर्ण सुबह और शाम रोगी को देने से आक्षेप के दौरे ठीक हो जाते हैं।

■   चेचक के दाग हटाने के 10 आसान उपाय और घरेलू नुस्खे

32 पेट में दर्द (Honey For Stomachache In Hindi)

शहद का प्रयोग करने से खाना खाने के बाद होने वाले पेट दर्द समाप्त होते है। शहद और पानी मिलाकर पीने से पेट के दर्द में राहत मिलती है।

33 हृदय की दुर्बलता

शहद हृदय को शक्ति देने के लिए विश्व की समस्त औषधियों से सर्वोत्तम हैं इससे हृदय इतना शक्तिशाली हो जाता है जैसे घोड़ा हरे जौ खाकर शक्ति प्राप्त करता है। इसके प्रयोग से हृदय के पुट्टों की सूजन दूर हो जाती है। जहां यह रोग-ग्रस्त हृदय को शक्ति देता है वहां स्वस्थ हृदय को पुष्ट और शक्तिशाली बनाता है, हृदय फेल होने से बचाता है। जब रक्त में ग्लाइकोजन के अभाव से रोगी को बेहोश होने का डर हो तो शहद खिलाकर रोगी को बेहोश होने से बचाया जा सकता हैं शहद मिनटों में रोगी में शक्ति व उत्तेजना पैदा करता हैं।

हृदय की धड़कन

सर्दी या कमजोरी के कारण जब हृदय की धड़कन अधिक हो जाये, दम घुटने लगे तो दो चम्मच शहद सेवन करने से नवीन शक्ति मिलती है।

हृदय की दुर्बलता, दिल बैठना

हृदय की दुर्बलता, दिल बैठना आदि कोई कष्ट हो तो शहद की एक चम्मच पानी में डालकर पिलायें। एक चम्मच शहद प्रतिदिन लेने से हृदय सबल व मजबूत बनता है।

34 पीलिया रोग (Honey For Jaundice In Hindi)

शुरू में दो दिन तक एक चम्मच मधु की खुराक दो बार दें फिर चार दिन आधे चम्मच के साथ मधु और आंवले का चूर्ण मिलाकर तीन बार दें। अगले चार दिन आधा चम्मच मधु और लौह चूर्ण मिलाकर तीन बार दें।

35 शरीर को शक्तिशाली बनाना 

शहद 10 ग्राम, 5 ग्राम घी और 3 ग्राम आंवलासार गन्धक को लेकर इसमें थोड़ी सी शक्कर मिलाकर सेवन करने से शरीर को मजबूती मिलती है।

काला नमक के फायदे

Kala Namak Ke Fayde Aur Labh In Hindi

1 पाचन दुरस्त करे और कब्ज मिटाए (Black Salt For Constipation & Digestion In Hindi)

नमक वाला पानी मुंह में लार वाली ग्रंथी को सक्रिय करने में मदद करता है। पेट के अंदर प्राकृतिक नमक, हाइड्रोक्लोरिक एसिड और प्रोटीन को पचाने वाले इंजाइम को उत्तेजित करने में मदद करता है। इससे खाया गया भोजन टूट कर आराम से पच जाता है। जिससे कब्ज की समस्या से निजात मिलती है और सुबह-सुबह पेट खुल कर साफ होता हैं।

■   एनर्जी और स्टैमिना कैसे बढ़ाये 10 उपाय 

2 मोटापा घटाए (Black Salt For Weight Loss In Hindi)

यह पाचन को दुरस्त कर के शरीर की कोशिकाओं तक पोषण पहुंचाता है, जिससे मोटापा कंट्रोल करने में मदद मिलती है। समुंद्री नमक छोड़ कर आपको इस नमक को अपने आहार में शामिल करना चाहिये।

3 जोड़ों के दर्द में आराम दिलाए (Black Salt For Joint Pain In Hindi)

मासपेशियों के दर्द और जोड़ों के दर्द से यह नमक आराम दिलाता है।

क्या करें

आपको एक कपड़े में 1 कप काला नमक डाल कर उसे बांध कर पोटली बनानी है। इसके बाद उसे किसी पैन में गरम करें और उससे जोड़ों की सिकाई करें। इसे दुबारा गरम कर के फिर से दिन में दो बार सिकाई करें।

4 आंत की गैस से छुटकारा दिलाए (Black Salt For Acidity In Hindi)

अगर गैस से छुटकारा पाना है तो करें ये प्रयोग –

क्या करें

एक कॉपर का बरतन गैस पर चढाएं, फिर उसमें काला नमक डाल कर हल्का चलाएं और जब उसका रंग बदल जाए तब गैस बंद कर दें। फिर इसका आधा चम्मच ले कर एक गिलास पानी में मिक्स कर के पियें।

5 सीने की जलन से मुक्ती (Black Salt For Chest Burn In Hindi)

क्षारीय प्रकृति होने के नाते यह पेट में जा कर वहां बनने वाले एसिड को काटता है और सीने की जलन तथा एसिडिटी को ठीक करता है।

■   मुंह जीभ और होठों के छालों का इलाज के 10 आसान घरेलू नुस्खे

6 कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल करे (Black Salt For Cholesterol In Hindi)

काला नमक खाने से रक्त पतला होता है जिससे वह पूरे शरीर में आराम से पहुंचता है। ऐसे में आपका हाई कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर ठीक होता है। हाइ बीपी है तो साधारण नमक की जगह पर खाएं काला नमक।

7 मसल स्पैजम और क्रैंप में आराम दिलाए (Black Salt For Cramps In Hindi)

काला नमक में पोटैशिमय होता है जो कि हमारी मासपेशियों को ठीक से काम करने में मदद करता है। इसलिये काले नमक को रोजाना खाने में शामिल करें जिससे मसल स्पैजम और क्रैंप ना हो।

8 मधुमेह को कंट्रोल करे (Black Salt For Diabetes In Hindi)

रिसर्च मे पाया गया है कि काला नमक ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करता है।

9 शिशुओं के लिये भी अच्छा (Black Salt For Babies In Hindi)

काला नमक छोटे बच्चों के लिए सबसे अच्छा है। यह अपच और कफ की जमावट को सीने से हटाता है।

क्या करें

अपने शिशु के भोजन में थोड़ा सा काला नमक रोजाना मिलाएं क्योंकि इससे उनका पेट भी ठीक रहेगा और कफ आदि से भी छुटकारा मिलेगा।

■   बालों में से रूसी हटाने के 10 आसान तरीके और घरेलू उपाय

10 नींद लाने में लाभदायक (Black Salt For Sleep In Hindi)

अपरिष्कृत नमक में मौजूदा खनिज हमारी तंत्रिका तंत्र को शांत करता है। नमक, कोर्टिसोल और एड्रनलाईन, जैसे दो खतरनाक सट्रेस हार्मोन को कम करता है। इसलिये इससे रात को अच्छी नींद लाने में मदद मिलती है।

11 रूसी से मुक्ती दिलाए (Black Salt For Dandruff In Hindi)

यह प्रयोग रूसी को दूर करेगा और बालों की ग्रोथ को भी बढ़ाएगा।

क्या करें

काला नमक और टमाटर का जूस हफ्ते में एक दिन सिर में लगाएं।

12 शरीर करे डिटॉक्स (Black Salt For Detoxification In Hindi)

नमक में काफी खनिज होने की वजह से यह एंटीबैक्टीरियल का काम भी करता है। इसकी वजह से शरीर में मौजूद खतरनाक बैक्टीरिया का नाश होता है।

13 त्वचा की समस्या (Black Salt For Skin Problems In Hindi)

प्रयोग 1

नमक में मौजूद क्रोमियम एक्ने से लड़ता है और सल्फर से त्वचा साफ और कोमल बनती है।

प्रयोग 2

नमक वाला पानी पीने से एग्जिमा और रैश की समस्या दूर होती है। सौंदर्य के लिये बड़ा ही फायदेमंद है सेंधा नमक।

■   गर्दन में दर्द का इलाज के 10 आसान घरेलू उपाय और देसी नुस्खे
Loading...

Leave a Reply