‘आयुर्वेद और योग हमारे देश की संस्कृति है। लेकिन हमारे देश के लोग इन्हें बहुत मामूली समझते हैं। आलम ये है कि हमारे देश के लोग इन पर विश्वास करने के बजाय एलोपैथी और विदेशी दवाओं में विश्वास करते हैं। कभी-कभी ये सोच कर बहुत दुख और अफसोस भी होता है। क्योंकि बाहर के लोग तो हमारे देश में आकर आयुर्वेद और योग का लाभ उठा रहे हैं और हमारे देश के लोग लाखों-करोड़ों रुपये खर्च कर विदेशी दवाओं और उनकी खोखली बातों पर विश्वास करते हैं। ये तो वही बात हुई कि दीया तले अंधेरा।

■  बिना मेकअप सुंदर कैसे दिखे 10 आसान घरेलू उपाय और नुस्खे

मैं ये नहीं कह रहा हूं कि ऐलोपैथी दवाएं खराब हैं। ऐसा नहीं है। वे अपनी जगह बिल्कुल ठीक हैं। लेकिन जो ताकत हमारे आयुर्वेद और योग में है वह किसी और में नहीं है। इसलिए मैं अपने देश के लोगों से विनती करता हूं कि आप एक बार आयुर्वेदिक दवाओं और योग में विश्वास कर के देखिए। यकीन मानिए आप रोज सुबह एक खिलखिलाती मुस्कान के साथ उठेंगे।’ यह कहना है बॉलिवुड के कॉमेडी और एक्शन खिलाड़ी अक्षय कुमार का।

अक्षय कुमार ने हाल ही में अपने ट्विटर अकाउंट पर 5 मिनट 58 सेकेंड का एक वीडियो शेयर की है। इस वीडियो में अक्की अपने बेडरूम में लेटे हुए हैं और सादे कपड़ों में में वीडियो के माध्यम से बोल रहे हैं। अक्षय वीडियो में कह रहे हैं ‘आज मैं आपसे किसी तरह की कोई शिकायत या समस्या का जिक्र नहीं कर रहा हूं। बल्कि मैं आज आपको एक जरूरी बात बताने वाला हूं। आयुर्वेद, होमोपैथी और योग हमारे देश की संस्कृति हैं। लेकिन हम इनसे जितने दूर जा रहे हैं विदेशी लोग उतने ही इनके पास आ रहे हैं।’

उन्होंने कहा कि बीते दिनों वह कुछ दिनों तक केरल के एक आयुर्वेदिक औषधालय में रूके थे। जहां लगभग सभी अंग्रेज थे। इसका मतलब ये हुआ कि बाहर के लोग हमारे आयुर्वेद की शक्ति को पहचान गए हैं और इलाज कराने भारत आ रहे हैं। लेकिन हमारे देश के लोगों की आंखें अभी तक नहीं खुली हैं। इस वीडियो में अक्षय ने भारतीय चिकित्साे पद्धतियों और आयुर्वेद के इस्तेीमाल पर जोर दिया है। हालांकि अक्षय ने वीडियो में ये भी कहा कि वह किसी आयुर्वेद कंपनी के ब्रांड एम्बेस्डर बन कर नहीं बोल रहे हैं बल्कि अपनी फिट बॉडी के ब्रांड एम्बेस्डर बन कर बोल रहे हैं।

■  कमर दर्द दूर करने के 5 आसान घरेलू उपाय
Loading...

Leave a Reply