ukdoo baithne ke fayde

दोस्तों आज हम आपके साथ बहुत ही दिलचस्प जानकारी शेयर करने वाले हैं. आज हम आपको बताएंगे कि कैसे एक सिंपल सी पोजीशन में बैठने मात्र से आप अपने शरीर को कई सारे फायदे पहुंचा सकते हैं. आप लोगो ने गाँव के लोगो को अक्सर उकडू अवस्था में बैठा देखा होगा. जहाँ एक तरफ गाँव में इस तरह से बैठना आम बात माना जाता हैं तो वहीँ यदि को व्यक्ति शहर में इस तरह से चार लोगो के बीच बैठ जाए तो लोग उसे अजीब निगाहों से देखते हैं. वे उसे गवार समझने लगते हैं और कई बार उसका मजाक भी उड़ाते हैं. उकडू बैठने की वजह से कई बार साथ के लोग खुद की बेज्जती भी महसूस करते हैं. यदि उनकी जान पहचान का व्यक्ति ऐसा बैठ जाए तो उन्हें बड़ी शर्मिंदगी होती हैं और वो उसे सीधा बैठने के लिए टोक देते हैं.

लेकिन आपको जान हैरानी होगी कि उकडू अवस्था में बैठने से कई हैरान कर देने वाले फायदे होते हैं. गाँव में मजदूर और किसान वर्ग अक्सर इस अवस्था में बैठता हैं जिसकी वजह से वो हम शहरी लोगो की तुलना में ज्यादा मजबूत भी होते हैं. इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको बताएँगे कि किन किन कामो को करते समय आपको उकडू अवस्था में बैठना चाहिए. तो चलिए एक एक कर इन कामो के बारे में जानते हैं…

उकडू बैठ ये काम करेंगे तो होंगे कई फायदें

शौच करते समय

दोस्तों विज्ञान भी ये बात मानता हैं कि उकडू अवस्था में बैठ कर शौच करने से हमारा पाचन तंत्र मजबूत बनता हैं और पेट जल्दी साफ़ होता हैं. दरअसल हमारे आँतों की बनावट कुछ ऐसी होती हैं कि इस अवस्था में बैठने पर ये मल को हमारे शरीर से जल्दी बिना तकलीफ के बाहर निकाल देती हैं. ये तकनीक धीरे धीरे पश्चिमी देशों में भी पॉपुलर हो रही हैं. इसलिए अगली बार से आपका पेट साफ़ ना हो तो वेस्टर्न टॉयलेट का इस्तेमाल करने की बजाए इस देशी तरीके को अपना लेना. पेट अच्छे से साफ़ हो जाएगा. जब आप इस तकनीक में शौच करने जाए तो पहले एक से डेढ़ लीटर पानी पी ले. इसके बाद इस पोजीशन में बैठ जाए और बीच बीच में पंजे के बल आगे आकर अपने दांत पीसे. ऐसा करने से बड़ी से बड़ी कब्ज भी ठीक हो जाएगी और पेट जल्दी साफ़ होगा.

दातुन करते समय

उकडू अवस्था में बैठ आप उंगलियों से दांतों की मालिश करे और अपने कंठ को साफ़ करे. ऐसा करने से आपका पाचन तंत्र मजबूत होगा, नेत्रों की ज्योति बढ़ेगी और बालों का झड़ना भी कम होगा.

खाना खाते समय

उकडू बैठ खाना खाने से खाना जल्दी पचता हैं. खाते समय इस अवस्था में बैठने से गुरुत्व नाभि में जाता हैं जिससे भोजन पचाने में आसानी होती हैं. साथ ही इससे एसिडिटी नहीं होगी, पेट बाहर नहीं निकलेगा और डकार आएगी. इस अवस्था में बैठ भोजन करने या दूध निकालने से महिलाओं को अधिक लाभ मिलता हैं. इससे एड़ी, कमर, जोड़ो का दर्द इत्यादि की समस्यां नहीं आती हैं.

अब अगली बार यदि कोई आपका उकडू बैठने की वजह से मजाक उड़ाए तो उसे ये फायदे गिनवा कर उसका मुंह बंद कर दीजिएगा.

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेलू नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Previous articleरोज़ सुबह 10 दिन धनिया का पानी पीने से क्या हो गया देखकर अचंभित रह जाओगे
Loading...

Leave a Reply